नफ़रत के कारण होने वाले अपराधों के विरुद्ध जवाबदेही तय हो

नई दिल्ली: सोमवार 18 मार्च को,  दिल्ली के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में एक दिवसीय सम्मेलन आयोजित हुआ, जिसमें कई नागरिक और मानवाधिकार संगठन एक मंच पर साथ आए. स्टेप टूवर्ड्स होप ‘Steps Towards Hope’ शीर्षक के साथ आयोजित इस प्रोग्राम का उद्देश्य संवैधानिक रूप से अनिवार्य नागरिक अधिकारों को मज़बूत करने की आवश्यकता और नरेंद्र मोदी सरकार के पिछले 5 साल में किये गए कार्यों का … पढ़ना जारी रखें नफ़रत के कारण होने वाले अपराधों के विरुद्ध जवाबदेही तय हो

अबकी बार, नफ़रत की हार

पटना में नफ़रत के खिलाफ एक कार्यक्रम आयोजित किया गया, कार्यक्रम के आयोजक महताब आलम ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए कहा कि अन्याय करने वाला ही दोषी नही है बल्कि उस अन्याय को मूकदर्शक बनकर देखने वाले भी बराबर के दोषी हैं। उन्होंने बताया कि आने वाले वक्त में बिहार में पीड़ितों की लड़ाई को तेज किया जाएगा। अररिया में पीट पीटकर हत्या कर … पढ़ना जारी रखें अबकी बार, नफ़रत की हार

दिल्ली में मदरसा छात्र की हत्या, 4 लोग गिरफ़्तार

गुरुवार को दिल्ली के मालवीय नगर इलाके के बेगमपुर इलाके में कुछ लोगों ने मोहम्मद अज़ीम की हत्या कर दी. अज़ीम एक 8 वर्षीय बच्चा था, जो बेगमपुर स्थित एक मदरसे का छात्र था. नफ़रत के शिकार अज़ीम की हत्या के मामले में पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता नदीम खान के … पढ़ना जारी रखें दिल्ली में मदरसा छात्र की हत्या, 4 लोग गिरफ़्तार

अलीगढ़ पुलिस ने बजरंग दल के साथ मिल कर दिल्ली से आये जांच दल की मोब लिंचिंग की साज़िश रची – नदीम खान

कल यानि गुरुवार को दिल्ली से यूनाइटेड अगेन्स्ट हेट का एक जांच दल अलीगढ़ में हुए लाईव एंकाउंटर की तफ़शीश करने अलीगढ़ गया था और दल के सदस्य में मारे गए नौशाद और मुस्ताकिम के घर भी गए और उनके परिवार के लोगो से मिल कर उनका पक्ष जाना. इस टीम में कुछ में सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ वकील और पत्रकार भी थे। जांच दल … पढ़ना जारी रखें अलीगढ़ पुलिस ने बजरंग दल के साथ मिल कर दिल्ली से आये जांच दल की मोब लिंचिंग की साज़िश रची – नदीम खान

असम में NRC की प्रक्रिया पर उठते सवाल, ये हैं स्याह पहलू

असम में आज 40 लाख लोगों का नाम नागरिकता की लिस्ट में नही है . कुछ लोग राजनाथ सिंह के बयान के आधार पर बता रहे है की सब कुछ ठीक है पैनिक नही लेना चाहिए लेकिन असम में अफरातफरी का माहौल है पूरे असम में धारा 144 लागू है. केवल बराक वैली के तीन शहरों में ही नहीं 100 प्लाटून रिज़र्व पुलिस फ़ोर्स तैनात ह, … पढ़ना जारी रखें असम में NRC की प्रक्रिया पर उठते सवाल, ये हैं स्याह पहलू