राहुल गांधी का मंदिर जाना महज़ दिखावे के लिए नहीं था – थरूर

‘‘ बहुत से हिंदू, विशेष रूप से मेरी पीढ़ी के, हिंदू धर्म में आस्था रखने वालों और उसका पालन करने वालों की तरह पले बढ़े हैं लेकिन उन्होंने इसे कभी बाहर प्रदर्शित नहीं किया क्योंकि उन्हें ऐसा करना पसंद नहीं था.’’ ये कहना है शशि थरूर का, शशि थरूर हाल ही में यहां संपन्न हुए जयपुर साहित्य उत्सव में उक्त बाते कही. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता … पढ़ना जारी रखें राहुल गांधी का मंदिर जाना महज़ दिखावे के लिए नहीं था – थरूर

हिंदी पर सुषमा और थरूर की संसद में नोक-झोंक

हिंदी को संयुक्त राष्ट्र में आधिकारिक भाषा बनाने के मुद्दे पर बुधवार को लोकसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और कांग्रेस नेता शशि थरूर के बीच तीखी नोक-झोंक देखने को मिली. लक्ष्मण गिलुवा और रमा देवी के पूरक प्रश्न के जवाब में सुषमा ने बताया कि हिंदी को संयुक्त राष्ट्र में एक आधिकारिक भाषा के तौर पर मान्यता दिलाने के लिए प्रयास जारी हैं, लेकिन प्रक्रिया इसमें … पढ़ना जारी रखें हिंदी पर सुषमा और थरूर की संसद में नोक-झोंक

शशि थरूर के जवाब से चारो खाने चित हुये ब्रिटिश

शशि थरूर विदेशी मामलों के जानकर के तौर पर जाने जाते है और मुख्यतः ब्रिटिश शासन पर गहरे अध्ययन के लिए. उन्होंने ब्रिटिश शासन की धज्जियां उड़ाते हुए एक पुस्तक ‘इरा ऑफ़ डार्कनेस’ के नाम से लिखी है. थरूर की अपनी फर्राटेदार अंग्रेजी के लिए जाने जाते है . और उनका अंग्रेजी उच्चारण तो कयामत सा लगता है. शशि थरूर एक विडियो इन दिनों इंटरनेट … पढ़ना जारी रखें शशि थरूर के जवाब से चारो खाने चित हुये ब्रिटिश