मुग़ल बादशाह शाहजहाँ – जिनके शासनकाल में बनी कई ऐतिहासिक इमारतें

5 जनवरी 1592 ईसवी को मुग़ल सल्तनत और दुनिया के आठ अजूबों में से एक “ताजमहल” बनवाने वाले अज़ीम बादशाह ” शाहजहां”(खुर्रम) की पैदाईश पाकिस्तान के लाहौर में हुई थी, जिनका असल नाम खुर्रम था, और जिनको जवानी में ही उनके बाप का जानशीन कहा जाने लगा था,कहा जाता है के शाहजहां का दौर मुग़ल साम्राज्य का सुनहरा दौर था, शाहजहाँ को मुगल शासकों में … पढ़ना जारी रखें मुग़ल बादशाह शाहजहाँ – जिनके शासनकाल में बनी कई ऐतिहासिक इमारतें

कार्पोरेट्स के ठेके में देश, 5 साल के लिए डालमिया ग्रुप का हुआ ‘लालकिला”

77 वर्ष पुराना डालमिया ग्रुप देश का ऐसा पहला कॉर्पोरेट हाउस बन गया है जिसने ऐतिहासिक स्मारक लाल किले को 5 साल के कॉन्ट्रैक्ट पर लिया है. डालमिया ग्रुप इसके लिए सरकार को 25 करोड़ रुपए देगा. गौरतलब है कि लाल किले का निर्माण 17वीं शताब्दी में 5वें मुग़ल बादशाह शाहजहां द्वारा करवाया गया था. तब शाहजहां अपनी राजधानी आगरा से दिल्ली ले गये थे. … पढ़ना जारी रखें कार्पोरेट्स के ठेके में देश, 5 साल के लिए डालमिया ग्रुप का हुआ ‘लालकिला”

RSS के पहले, अंग्रेज़ों ने रची थी ताज महल को ध्वस्त करने की साज़िश!

ताज महल और उत्तर भारत का वर्ग संघर्ष RSS द्वारा स्वतंत्रता संग्राम आन्दोलन से दूरी अख्तियार करने की वजह से अंग्रेज़ सरकार ने इनाम के तौर पर इनको फलने फूलने दिया। संघ के लोग अंग्रेज़ सरकार के लिए स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की जासूसी करते थे। संघ और अंग्रेज़ दोनों को ही मुग़लों से भारी नफरत रही है। औपनिवेशवाद और फ़ासीवाद के विरोध के प्रतीक के … पढ़ना जारी रखें RSS के पहले, अंग्रेज़ों ने रची थी ताज महल को ध्वस्त करने की साज़िश!