जातिगत प्रताड़ना – मुंबई में आदिवासी महिला डॉक्टर ने की आत्महत्या

मुंबई से एक महिला डॉक्टर की आत्महत्या का मामला सामने आया है, जिसमें आत्महत्या की वजह सीनियर डॉक्टर्स द्वारा जातिगत भेदभाव और टिप्पणियां व अपमान बताया जा रहा है. मृतक के परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने आरोपियों को आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा लगाई गई  है. दरअसल मामला ये है, कि डॉक्टर पायल तडवी मुंबई के नायर अस्पताल के टॉपिकल नेशनल … पढ़ना जारी रखें जातिगत प्रताड़ना – मुंबई में आदिवासी महिला डॉक्टर ने की आत्महत्या

रोहित वेमुला का वो आख़िरी ख़त

गुड मॉर्निंग, आप जब ये पत्र पढ़ रहे होंगे तब मैं नहीं होऊंगा. मुझ पर नाराज मत होना. मैं जानता हूं कि आप में से कई लोगों को मेरी परवाह थी, आप लोग मुझसे प्यार करते थे और आपने मेरा बहुत ख्याल भी रखा. मुझे किसी से कोई शिकायत नहीं है. मुझे हमेशा से खुद से ही समस्या रही है. मैं अपनी आत्मा और अपनी … पढ़ना जारी रखें रोहित वेमुला का वो आख़िरी ख़त

दलित व आदिवासी विरोधी चार साल

एक महीने बाद मोदी सरकार के चार साल पूरे हो जाएंगे इन चार सालों में राजनीतिक, सामाजिक, और आर्थिक तौर से भारत व्यस्त ही है, हर नया सवेरा एक नया मुद्दा लेकर आता है और लेकर आता है अविश्वास, डर, और गुस्सा। इन चार सालों में शायद ही कोई ऐसा तबका रहा होगा जो मोदी सरकार के प्रकोपों से बचा हो। सबका साथ सबका विकास … पढ़ना जारी रखें दलित व आदिवासी विरोधी चार साल

पांड्या ने किया आंबेडकर के विरुद्ध ट्वीट, केस हुआ दर्ज

हार्दिक पंड्या के खिलाफ़ भीमराव आंबेडकर के अपमान करने के मामले में FIR दर्ज हुई है. ज्ञात होकि हार्दिक पंड्या ने एक ट्वीट किया था, जिसमे संविधान निर्माता डॉ बीआर आंबेडकर के विरुद्ध अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था. जिसके बाद उनके विरुद्ध जोधपुर अदालत ने पंड्या पर FIR दर्ज करने के आदेश दिए हैं. हार्दिक पांड्या ने ट्वीट किया गया था, इसमें उन्होंने लिखा … पढ़ना जारी रखें पांड्या ने किया आंबेडकर के विरुद्ध ट्वीट, केस हुआ दर्ज

दलित अत्याचार पर कब चुप्पी तोड़ेंगे पीएम – जिग्नेश

महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में पुणे में FIR दर्ज होने के बाद गुजरात के दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने सभी आरोपों से इनकार किया है. और उनपर दर्ज किए गए भड़काऊ भाषण देने के केस पर सफाई दी. उन्होंने कहा कि पूरे मामले में मुझे फंसाया जा रहा है. मेवाणी ने शुक्रवार को दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए … पढ़ना जारी रखें दलित अत्याचार पर कब चुप्पी तोड़ेंगे पीएम – जिग्नेश

दोषी नहीं तो मुकेश के दांत के निशान निर्भया के पैर में कैसे लगे: सुप्रीम कोर्ट

देश को झंकझोर कर देने वाली घटना, जो मनवता को शर्मसार करते हुए, राजधनी दिल्ली में घटी थी. जी हाँ हम बात कर रहे है निर्भया केश की. जिसके पांचवीं बर्षी के ठीक पहले सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान कुछ तल्ख टिपणीया की. मामले की अगली सुनवाई  22 जनवरी को होगी. मंगलवार को मामले की सुनवाई के दौरान मुकेश के बचाव में वकील की … पढ़ना जारी रखें दोषी नहीं तो मुकेश के दांत के निशान निर्भया के पैर में कैसे लगे: सुप्रीम कोर्ट

भाजपा के मुकाबिल तिकड़ी

ये आपने कब देखा था कि एक राज्य के चुनाव और उसके नतीजों में लगभग सवा महीने का फासला रखा गया हो? चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश में आठ नवंबर को चुनाव कराने का ऐलान किया है, लेकिन नतीजों का ऐलान 18 दिसंबर को किया जाएगा। कोई भी सामान्य बुद्धि रखने वाला शख्स भी समझ सकता है कि ऐसा क्यों किया गया है? क्या चुनाव … पढ़ना जारी रखें भाजपा के मुकाबिल तिकड़ी

डॉ अंबेडकर पूजने की “वस्तु” नहीं..अपनाये जाने वाले “लीजेंड”(दिव्यचरित्र) हैं

मैं, फ़िक्रमंद हूँ कि वर्णाश्रम के आख़िरी पायदान पे लटका दिये गए “शूद्र” अपना “ज़िंदा अस्तित्व” मनुवादी निज़ाम मे कैसे ढूंढ सकते हैं? उसमें भी ख़ासकर अतिशूद्र वर्ग ?  इससे बुरा और क्या हो सकता है कि अछूतों के अंदर भी “महाअछूत” वर्ग है जो “इनके” पढ़े लिखे वर्ग के लिए भी उतना ही घृणित है, जितना ब्राह्मणों के लिए “ये शिक्षित दलित”. अचंभित हूँ … पढ़ना जारी रखें डॉ अंबेडकर पूजने की “वस्तु” नहीं..अपनाये जाने वाले “लीजेंड”(दिव्यचरित्र) हैं

क्या दलितों का भाजपा से मोह भंग हो रहा है, ऊना घटना के बाद बदलते राजनीतिक समीकरण

अहमदाबाद: ऊना की शर्मनाक घटना के बाद पूरे गुजरात में दलित समुदाय आन्दोलन की राह पकड़ चुका है, संघ ने इस घटना के बाद एक सर्वे किया, जिसमें बड़े ही चौकाने वाले नतीजे सामने आये है.पहले पटेल आन्दोलन और फिर अब दलित आन्दोलन से गुजरात ही नहीं यूपी से भी दलितों का मोहभंग होता दिख रहा है.अहमदाबाद और मुंबई में विभिन्न दलित संगठनो ने जिस … पढ़ना जारी रखें क्या दलितों का भाजपा से मोह भंग हो रहा है, ऊना घटना के बाद बदलते राजनीतिक समीकरण