आसमान छू रही है बेरोज़गारी, राष्ट्रवाद के सहारे हवा हवाई प्रधानमंत्री मोदी – रविश कुमार

एक तरफ बेरोज़गारी ( Unemployment in india ) बढ़ रही है तो दूसरी तरफ काम मांगने वालों की संख्या घटती जा रही है। काम मांगने वालों की संख्या को लेबर पार्टिसिपेशन रेट कहते हैं मतलब यह रेट तभी बढ़ता है जब काम मिलने की उम्मीद हो। 2018 की तुलना में 2019 के पहले दो महीने में काम मांगने वालों की संख्या घटी है। सेंटर फॉर … पढ़ना जारी रखें आसमान छू रही है बेरोज़गारी, राष्ट्रवाद के सहारे हवा हवाई प्रधानमंत्री मोदी – रविश कुमार

क्या आप इन ढाई महीने के लिए चैनल देखना बंद नहीं कर सकते?

अगर आप अपनी नागरिकता को बचाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप लोकतंत्र में एक ज़िम्मेदार नागरिक के रूप में भूमिका निभाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप अपने बच्चों को सांप्रदायिकता से बचाना से बचाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप भारत में पत्रकारिता को बचाना … पढ़ना जारी रखें क्या आप इन ढाई महीने के लिए चैनल देखना बंद नहीं कर सकते?

कपिल मिश्रा के भड़काऊ वीडियो की शिकायत करने वाले अफ़सर हुए निलंबित

पत्रकार अभिसार शर्मा और रविश कुमार को फोन कर भद्दी गालियाँ देने वाले लोगों के खिलाफ टेलीकॉम कम्पनियों को नोटिस भेजने वाले और कपिल मिश्रा द्वारा आपत्तिजनक वीडियो शेयर करने पर दिल्ली पुलिस कमिश्नर को शिकायत हेतु ख़त लिखने वाले अफ़सर को दूरसंचार मंत्रालय ने मंगलवार को निलंबित कर दिया है और उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही शुरू कर दी है. Govt suspends DoT official #AshishJoshi … पढ़ना जारी रखें कपिल मिश्रा के भड़काऊ वीडियो की शिकायत करने वाले अफ़सर हुए निलंबित

वायु सेना, सरकार के पराक्रम के बीच पत्रकारिता का पतन झाँक रहा है – रविश कुमार

आज का दिन उस शब्द का है, जो भारतीय वायु सने के पाकिस्तान में घुसकर बम गिराने के बाद अस्तित्व में आया है। भारत के विदेश सचिव ने इसे अ-सैन्य कार्रवाई कहा है। अंग्रेज़ी में non-military कहा गया है। इस शब्द में कूटनीतिक कलाकारी है। बसों से लैस लड़ाकू विमान पाकिस्तान की सीमा में घुस जाए, बम गिराकर बगैर अपने किसी नुकसान के सकुशल लौट … पढ़ना जारी रखें वायु सेना, सरकार के पराक्रम के बीच पत्रकारिता का पतन झाँक रहा है – रविश कुमार

संस्थाओं की बर्बादी के बीच जनता की मदहोशी

सूट-बूट की सरकार से शुरूआत करने वाली मोदी सरकार पांच साल बीतते-बीतते बड़े लोगों की सरकार हो गई है। बड़े लोगों की चिन्ता में जेटली जी दुबले हुए जा रहे हैं। महीनों जजों की कुर्सी ख़ाली रही मगर सरकार अपने अहं की लड़ाई लड़ती रही। आम लोग इंसाफ़ के लिए भटकते रहे। प्रतिष्ठा धूल मिट्टी में मिलती रही। तब भारत के ब्लॉग मंत्री सह वित्त … पढ़ना जारी रखें संस्थाओं की बर्बादी के बीच जनता की मदहोशी

24 घंटे लेट हो गई ट्रेन कई परीक्षार्थियों की छूट गई परीक्षा

18 जनवरी की आधी रात से पहले राजस्थान के अलग अलग हिस्सों से नौजवान आनंद विहार स्टेशन पर जमा हो गए थे। इसलिए कि 19 जनवरी को सुबह साढ़े छह बजे भुवनेश्वर जाने वाली नंदनकानन एक्सप्रेस छूट न जाए। यह ट्रेन चलने से पहले ही 9 घंटे लेट हो जाती है। दोपहर तीन बजे दिल्ली से रवाना होती है। निर्धारित समय के अनुसार इसे 20 … पढ़ना जारी रखें 24 घंटे लेट हो गई ट्रेन कई परीक्षार्थियों की छूट गई परीक्षा

गोदाम, चेक पोस्ट, बाइपास के उद्घाटन के लिए मोदी की सौ रैलियाँ

केरल में 13 किमी बाइपास का उद्घाटन तो मुंबई में भारतीय सिनेमा के राष्ट्रीय संग्रहालय के नए भवन का उद्घाटन। सिल्वासा में मेडिकल कालेज की आधारशिला रखी तो मणिपुर के साओमबंग में भारतीय खाद्य निगम के गोदाम का उद्घाटन। ओडिशा में छह नए पासपोर्ट सेवा केंद्रों का शुभारंभ तो मणिपुर में एकीकृत चेकपोस्ट का उद्घाटन। ओडिशा के नील माधव और सिद्धेश्वर मंदिर के नवीनीकरण और … पढ़ना जारी रखें गोदाम, चेक पोस्ट, बाइपास के उद्घाटन के लिए मोदी की सौ रैलियाँ

किसानों की क़र्ज़ माफ़ी पर हंगामा, बैंकों को एक लाख पर चुप्पी क्यों?

क्या आपको पता है कि बैंकों को फिर से 410 अरब रुपये दिए जा रहे हैं? वित्त मंत्री जेटली ने संसद से इसके लिए अनुमति मांगी है। यही नहीं सरकार ने बैंकों को देने के लिए बजट में 650 अरब का प्रावधान रखा था। बैंकों की भाषा में इसे कैपिटल इन्फ्लो कहा जाता है। सरकार बैंकों को एक साल में 1 लाख करोड़ रुपये क्यों … पढ़ना जारी रखें किसानों की क़र्ज़ माफ़ी पर हंगामा, बैंकों को एक लाख पर चुप्पी क्यों?

बिहार से लेकर यूपी की परीक्षाओं को लेकर क्यों परेशान हैं छात्र

सरकारी नौकरियों की भर्ती प्रक्रिया को लेकर सरकारें अब उदासीन बने रहना छोड़ दें। नौजवान यह समझने लगा है कि भर्ती का एलान नौकरी देने के लिए कम, नौकरी के नाम पर सपने दिखाने के लिए ज़्यादा होता है। जब उस भर्ती की प्रक्रिया को पूरा होने में कई साल लग जाते हैं तब नौजवान समझ जाता है कि उसका गेम हो चुका है। ऐसा … पढ़ना जारी रखें बिहार से लेकर यूपी की परीक्षाओं को लेकर क्यों परेशान हैं छात्र

क्या सरकार की नज़र भारतीय रिज़र्व बैंक के रिज़र्व पर है?

भारतीय रिज़र्व बैंक के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने 2010 में अर्जेंटीना के वित्त संकट का हवाला क्यों दिया कि केंद्रीय बैंक और सरकार के बीच जब विवाद हुआ तो केंद्रीय बैंक के गवर्नर से इस्तीफा दे दिया और फिर वहां आर्थिक तबाही मच गई। एक समझदार सरकार अपने तात्कालिक सियासी फायदे के लिए एक ऐसी संस्था को कमतर नहीं करेगी जो देश के दूरगामी … पढ़ना जारी रखें क्या सरकार की नज़र भारतीय रिज़र्व बैंक के रिज़र्व पर है?

सीबीआई की चंद्रमुखी और पारो में किसे चुनेंगे देवदास हुज़ूर

आपने फ़िल्म देवदास में पारो और चंद्रमुखी के किरदार को देखा होगा। नहीं देख सके तो कोई बात नहीं। सीबीआई में देख लीजिए। सरकार के हाथ की कठपुतली दो अफ़सर उसके इशारे पर नाचते नाचते आपस में टकराने लगे हैं। इन दोनों को इशारे पर नचाने वाले देवदास सत्ता के मद में चूर हैं। नौकरशाही के भीतर बह रहा गंदा नाला ही छलका है। राजनीति … पढ़ना जारी रखें सीबीआई की चंद्रमुखी और पारो में किसे चुनेंगे देवदास हुज़ूर

मधुमेह के रोगियों के पाँव जल्दी ही बहुत ख़ूबसूरत होंगे !

1701 में येल यूनिवर्सिटी की बुनियाद पड़ी थी। चार सौ साल की यात्रा पूरी करने वाली इस यूनिवर्सिटी की आत्मा ब्रिटेन के ऑक्सफ़ोर्ड में बसती है। जबकि है अमरीका के न्यू हेवन शहर में। यहाँ दो दिनों से भटक रहा हूँ । आज भटकते हुए बायो-मेकानिक्स की प्रयोगशाला में पहुँचा। यहाँ तीन भारतीय छात्र नीलिमा, निहव और अली हमारे पाँव और उँगलियों की स्थिरता और … पढ़ना जारी रखें मधुमेह के रोगियों के पाँव जल्दी ही बहुत ख़ूबसूरत होंगे !

अकबर मामले में राज्यसभा के सभापति-उपसभापति को रवीश कुमार का पत्र

माननीय श्री सभापति/ श्री उपसभापति राज्य सभा आदरणीय उपराष्ट्रपति जी और उपसभापति जी, आप राज्य सभा, जिसे उच्च सदन कहते हैं, के सभापति हैं। आपके सदन के सदस्य मुबशिर जावेद अकबर पर सोलह महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न और प्रताड़ना के आरोप लगाए हैं। उनके साथ दि एशियन एज की बीस महिला पत्रकारों ने अदालत में गवाही देने की बात कही है। अकबर के ख़िलाफ़ … पढ़ना जारी रखें अकबर मामले में राज्यसभा के सभापति-उपसभापति को रवीश कुमार का पत्र

गुजरात सरकार ला रही क़ानून, 80 फ़ीसदी रोजगार गुजरातियों को देने होंगे

गुजरात से यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश के मज़दूरों को भगाया गया। गुजरात सरकार दस दिनों बाद जागी है। मीडिया की हालत ये हो गई है कि उसे भनक तक नहीं लगी। राजनीतिक आरोप जो लग रहे हैं उसके पीछे बहुत गेम हो रहा है। कहा कुछ जा रहा है और हो कुछ रहा है। क्या आपको पता है कि गुजरात सरकार ऐसा क़ानून लाने … पढ़ना जारी रखें गुजरात सरकार ला रही क़ानून, 80 फ़ीसदी रोजगार गुजरातियों को देने होंगे

मोदीराज में अमीरों के 3 लाख करोड़ के लोन माफ़ हुए

मोदी राज के चार साल में 21 सरकारी बैंको ने 3 लाख 16 हज़ार करोड़ के लोन माफ कर दिए हैं। क्या वित्त मंत्री ने आपको बताया कि उनके राज में यानी अप्रैल 2014 से अप्रैल 2018 के बीच तीन लाख करोड़ के लोन माफ किए गए हैं? यही नहीं इस दौरान बैंकों को डूबने से बचाने के लिए सरकार ने अपनी तरफ से हज़ारों … पढ़ना जारी रखें मोदीराज में अमीरों के 3 लाख करोड़ के लोन माफ़ हुए

रविश की fb पोस्ट – भारत को लूटो, भारत से भागो, नई योजना आई है क्या प्रधानमंत्री जी

ऐसा लग रहा है कि भारत से भागने के लिए एयरपोर्ट पर अलग से काउंटर बना हुआ है। जहां से बैंक लूटने वालों को भागने में मदद की जा रही है। टाइम्स आफ इंडिया के नीरज चौहान की एक ख़बर गोदी मीडिया से ग़ायब है। भागने वाले नए खिलाड़ी का नाम है कि नितिन संदेसरा। इन पर 5300 करोड़ का बैंक फ्राड करने का आरोप … पढ़ना जारी रखें रविश की fb पोस्ट – भारत को लूटो, भारत से भागो, नई योजना आई है क्या प्रधानमंत्री जी

मर्दों के अंदर धर्मांन्धता, जातीयता, मर्दानगी का अहंकार भरा है

बलात्कार के मामले को इस सरकार बनाम उस सरकार का मुद्दा बना कर देख लिया गया। कठुआ बनाम उन्नाव का मुद्दा बनाकर देख लिया गया। हिन्दू बनाम मुसलमान बनाकर देख लिया गया। अपराधियों के मज़हब देखे गए। पीड़िता का जात धर्म देख लिया गया। राजनीति का कोई ऐसा गर्त न रहा होगा जहाँ बलात्कार का मामला न पहुँचा हो। समाज को निशाना बनाकर देख लिया … पढ़ना जारी रखें मर्दों के अंदर धर्मांन्धता, जातीयता, मर्दानगी का अहंकार भरा है

दस साल में यूपीए से ज़्यादा एनडीए ने चार साल में उत्पाद शुल्क चूस लिया

तेल की बढ़ी क़ीमतों पर तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का तर्क है कि यूपीए सरकार ने 1.44 लाख करोड़ रुपये तेल बॉन्ड के ज़रिए जुटाए थे जिस पर ब्याज की देनदारी 70,000 करोड़ बनती है। मोदी सरकार ने इसे भरा है। 90 रुपये तेल के दाम हो जाने पर यह सफ़ाई है तो इस में भी झोल है। सरकार ने तेल के ज़रिए आपका तेल … पढ़ना जारी रखें दस साल में यूपीए से ज़्यादा एनडीए ने चार साल में उत्पाद शुल्क चूस लिया

यूनिफॉर्म सिविल कोड का मुद्दा भी बोगस निकला, आप फिर उल्लू बने

यूनिफॉर्म सिविल कोड की इस वक्त न ज़रूरत है और न ही यह अनिवार्य है। यह राय भारत के क़ानून आयोग की है। पिछले शुक्रवार को कानून आयोग ने परिवार कानून सुधार पर अपनी तरफ़ से एक चर्चा-पत्र जारी किया है। आयोग का पक्ष है कि समुदायों के बीच समानता की जगह समुदायों के भीतर स्त्री और पुरुष के बीच समानता होनी चाहिए। सती प्रथा, … पढ़ना जारी रखें यूनिफॉर्म सिविल कोड का मुद्दा भी बोगस निकला, आप फिर उल्लू बने

नोटबंदी के समय उल्लू बने लोग हाज़िर हों, 99.30 पैसा बैंक में आ गया है

कल्पना कीजिए, आज रात आठ बजे प्रधानमंत्री मोदी टीवी पर आते हैं और नोटबंदी के बारे में रिज़र्व बैंक की रिपोर्ट पढ़ने लगते हैं। फिर थोड़ा रूक कर वे 8 नवंबर 2016 का अपना भाषण चलाते हैं, फिर से सुनिए मैंने क्या क्या कहा, उसके बाद रिपोर्ट पढ़ते हैं। आप देखेंगे कि प्रधानमंत्री का गला सूखने लगता है। वे खांसने लगते हैं और लाइव टेलिकास्ट … पढ़ना जारी रखें नोटबंदी के समय उल्लू बने लोग हाज़िर हों, 99.30 पैसा बैंक में आ गया है