विशेष – राष्ट्रवाद और भारत की अवधारणा

23 मई की देर शाम तक लोकसभा चुनाव 2019 के लगभग सभी नतीजे आ गए थे और भाजपा को पूर्ण बहुमत मिल चुका था। 24 मई की सुबह, अपेक्षाकृत शांत और फुसफुसाहट भरी थी। हालांकि एक्जिट पोल ने नतीजों का संकेत दे दिया था, फिर भी अधिकांश लोगों के लिये यह नतीजे अप्रत्याशित रहे। अब एक नयी सरकार 30 मई को शपथ लेगी और वह … पढ़ना जारी रखें विशेष – राष्ट्रवाद और भारत की अवधारणा

किसानों को उल्लू बनाने के लिए बहुत ज़रूरी हैं राष्ट्रवाद के नारे – रविश कुमार

ग्रामीण इलाके में न सिर्फ खेती से आय घटी है बल्कि खेती से जुड़े काम करने वालों की मज़दूरी भी घटी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी इस असफलता को आतंकवाद और राष्ट्रवाद के जोशीले नारों से ढंकने की कोशिश में हैं मगर पांच साल में उस जगह को बर्बाद किया है जहां से किसान आता है और सेना के लिए जवान आता है। इसके बाद … पढ़ना जारी रखें किसानों को उल्लू बनाने के लिए बहुत ज़रूरी हैं राष्ट्रवाद के नारे – रविश कुमार