सती प्रथा के समर्थन में पायल रोहतगी का ट्वीट, मानसिक दिवालियेपन का सुबूत है

मैं अक्सर कार्टून ढूंढता हूँ और उसे सोशल मीडिया पर मित्रों के लिये  साझा करता रहता हूँ। कार्टून सबसे मारक सम्प्रेषण हैं। नावक के तीर से भी अधिक मारक। एक अच्छा और संवेदनशील कार्टूनिस्ट बिना किसी टेक्स्ट के ही सब कुछ कह देता है और ग़ालिब का कालजयी शेर याद आ जाता है, वही तीरे नीमकश वाला। अब उसे भी यहाँ पढ़ ही लीजिए। कोई … पढ़ना जारी रखें सती प्रथा के समर्थन में पायल रोहतगी का ट्वीट, मानसिक दिवालियेपन का सुबूत है