मोदी की जीत भारतीय राजनैतिक चेतना का तीसरा सोपान है

पिछड़ों और दलितों की राजनीति ने 20 साल में ही वह गलती दुहरा दी, जिसे करने में कांग्रेस ने करीब 40 साल लगाए थे. यानी वे उन्हीं पुराने मुहावरों और मुद्दों पर चुनाव लड़ते रह गए जो कब के बासी हो चुके थे और वर्तमान जनमानस की हसरतों से मेल नहीं खाते थे. लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी को मिली 300 से अधिक … पढ़ना जारी रखें मोदी की जीत भारतीय राजनैतिक चेतना का तीसरा सोपान है

जनता का आदेश – एक बार फिर मोदी सरकार

अब रुझानों से ये साफ़ हो चुका है, कि भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर देश की सत्ता में क़ाबिज़ होने जा रही है. और नरेंद्र मोदी एक बार फिर देश के प्रधानमंत्री बनेंगे. आज जब सुबह परिणाम आना शुरू हुए, तो किसी ने सोचा नहीं था, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर चुनाव लड़ने वाली भारतीय जनता पार्टी को इतनी बड़ी जीत मिलेगी. … पढ़ना जारी रखें जनता का आदेश – एक बार फिर मोदी सरकार

सरकार किसी की भी बने, असल मुद्दे चुनौती बनेंगे

19 मई को लोकसभा चुनाव 2019 का अंतिम चरण पूरा हो गया और परंपरा के अनुसार, सभी न्यूज़ चैनलों ने अपने अपने अनुमान के अनुसार एक्जिट पोल के नतीजे जारी कर दिये। एक्जिट पोल अनुमान होते हैं और उनका प्रमाणों से कोई सम्बंध नहीं होता है। लेकिन इस बार के चुनाव की सबसे बड़ी खासियत यह रही कि यह चुनाव, सरकार जिस लिये चुनी जाती … पढ़ना जारी रखें सरकार किसी की भी बने, असल मुद्दे चुनौती बनेंगे

वादा फरामोशी के पांच साल

भारतीय जनता पार्टी के एक आम समर्थक से लेकर पार्टी अध्यक्ष तक को यह बात पता है कि बंगाल में अराजकता है। रोज कोई न कोई खबर छापी जाती है कि वहां दुर्गापूजा रुक गयी। हिंदुओं पर अत्याचार हो रहा है। मालदा के दंगों से लेकर अवैध रूप से बांग्लादेशी लोगों और रोहिंगयों तक के बंगाल में पसर जाने आदि आदि की खबरें खूब प्रसारित … पढ़ना जारी रखें वादा फरामोशी के पांच साल

हम एक अवैज्ञानिक और अनाड़ी भारत बना रहे हैं

बम फोड़कर भारतवासियों की जान लेने के मुक़दमे, जेल और ज़मानत भूल जाइए, जाँबाज़ शहीद अधिकारी को श्राप से मार डालने का दावा भी भुला दीजिए। लेकिन भोपाल की कथित साध्वी गाय पर हाथ फेर कर बीपी घटाने का टोटका प्रचारित कर रही हैं? तीन बार ऑपरेशन से बचने वाली मरीज़ गोमूत्र को कैंसर का इलाज बता रही है? हम कैसा भारत बनाने जा रहे … पढ़ना जारी रखें हम एक अवैज्ञानिक और अनाड़ी भारत बना रहे हैं

फ़र्ज़ी कंपनियों का बहीखाता लेकर जीडीपी बढ़ाने का खेल पकड़ा गया – रविश कुमार

जीडीपी ( GDP ) का आँकड़ा बढ़ा-चढ़ा कर बताने के लिए फ़र्ज़ी कंपनियों का इस्तमाल किया गया है। नेशनल सैंपल सर्वे (NSSO) ने एक साल लगाकर एक सर्वे किया मगर उसकी रिपोर्ट दबा दी गई। पहली बार सर्विस सेक्टर की कंपनियों का सर्वे हो रहा था। इसके लिए NSSO ने कारपोरेट मंत्रालय (Corporate Ministry ) से सर्विस सेक्टर की कंपनियों का डेटा लिया। जब उन … पढ़ना जारी रखें फ़र्ज़ी कंपनियों का बहीखाता लेकर जीडीपी बढ़ाने का खेल पकड़ा गया – रविश कुमार

क्या नरेंद्र मोदी ने झूठ पकड़ने वाले पत्रकारों का काम बढ़ा दिया है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन पत्रकारों का काम वाकई बढ़ा दिया है जो उनके झूठ पकड़ने लायक पढ़े लिखे हैं। बाकी तो ‘हर हर मोदी’ के जप में व्यस्त हैं और एक दिन मनोवांछित वरदान की अपेक्षा रखते हैं। सोचा था कि नेहरू के खिलाफ दुष्प्रचार के खिलाफ आज कुछ आपके काम का लिखूं लेकिन फिर मालूम पड़ा कि अफवाहबाज़ी के उस्ताद मोदी जी ने … पढ़ना जारी रखें क्या नरेंद्र मोदी ने झूठ पकड़ने वाले पत्रकारों का काम बढ़ा दिया है?

अगर आज राम खुद बनारस में नरेंद मोदी जी के खिलाफ चुनाव में खड़े होते तो ?

प्रेम प्रकाश जी वरिष्ठ पत्रकार हैं और मेरे मित्र हैं। कम लिखते हैं पर लाजवाब लिखते हैं। उनकी एक रोचक लेख नीचे प्रस्तुत कर रहा हूँ। उसे पढ़ने के पहले मेरी यह बात भी पढ़ लीजिएगा। प्रेम प्रकाश जी ने कल्पना की है कि अगर भगवान राम स्वतः 29 तारीख को आ कर बनारस कचहरी में लोकसभा चुनाव के संदर्भ में अपना पर्चा दाखिल कर … पढ़ना जारी रखें अगर आज राम खुद बनारस में नरेंद मोदी जी के खिलाफ चुनाव में खड़े होते तो ?

मंच के चारों ओर खाईं – यह भी पहली बार ही है मित्रों

महाराष्ट्र में नरेंद्र मोदी किसानों की एक जनसभा को संबोधित करने जा रहे हैं। लेकिन कोई किसान मंच तक न पहुंच पाये उसके लिये मंच के आगे तीनों तरफ छः फुट का गड्ढा खोदा गया है। इसे पानी से भर दिया जाएगा। जहां सूखे से महाराष्ट्र तबाह है, सबसे अधिक आत्महत्याएं जहां हो रही हों, पीने का पानी भी मुश्किल से उपलब्ध है, वहां 6 … पढ़ना जारी रखें मंच के चारों ओर खाईं – यह भी पहली बार ही है मित्रों

लोकसभा चुनाव 2019 – पुलवामा हमले के शहीदों के नाम पर वोट मांगना निंदनीय है

प्रधानमंत्री जी, क्या पुलवामा हमला आप की एक उपलब्धि है या बड़ी सुरक्षा चूक ? अगर चूक है तो फिर किसी सुरक्षा चूक के नाम पर जिसमें 44 जवान शहीद हो गए हैं आप क्यों वोट मांग रहे हैं ? और अगर इसे आप अपनी उपलब्धि समझते हैं तो और बात है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जनसभा रैली को संबोधित करने मंगलवार … पढ़ना जारी रखें लोकसभा चुनाव 2019 – पुलवामा हमले के शहीदों के नाम पर वोट मांगना निंदनीय है

चुनावी मुद्दा बनती सेना और बिना लाइसेंस के चलता नमो टीवी चैनल

लोकसभा चुनाव 2019 देश का पहला चुनाव है जिसने दो बातें अनोखी हुयी हैं। हो तो और भी रही हैं पर जिन दो बातों का में उल्लेख कर रहा हूँ वह आज तक किसी चुनाव में नहीं हुई। एक तो नमो नाम से टीवी चैनल का प्रसारण और दूसरा सेना को चुनावी मुद्दा बनाना। क्या नमो टीवी पर चुनाव आयोग की चुप्पी, भाजपा के साथ … पढ़ना जारी रखें चुनावी मुद्दा बनती सेना और बिना लाइसेंस के चलता नमो टीवी चैनल

2014 में किये वादों का क्या हुआ ?

मैं आप के साथ लोकसभा चुनाव 2014 का भाजपा का संकल्प पत्र 2014 साझा कर रहा हूँ। सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ वह चुनाव अनोखा था और उसके वादे तो और भी अलबेले थे। यह उन वादों की फेहरिस्त है। आप स्वतः तय कीजिये कि किन किन वादों का क्या हुआ और अब उन पर क्या हो रहा है। एक एक वादे … पढ़ना जारी रखें 2014 में किये वादों का क्या हुआ ?

अंतरिक्ष कार्यक्रम और ASAT ए सैट की उपलब्धियां और चुनाव

ए सैट A SAT परीक्षण पर उठे सारस्वत के बयान से अंतरिक्ष कार्यक्रम और उससे जुड़ी अन्य परियोजनाओं की गोपनीयता भंग होने का खतरा हो गया है। कल तक ऐसी उपलब्धियों की चर्चा वैज्ञानिक समुदाय करता था, और लोगों के लिये यह बहुत रोचक और चर्चा का विषय नहीं बनता था। लोग वैज्ञानिकों की इस उपलब्धि को बिना किसी राजनीतिक चश्मे के सराहते थे, प्रशंसा … पढ़ना जारी रखें अंतरिक्ष कार्यक्रम और ASAT ए सैट की उपलब्धियां और चुनाव

नज़रिया – 23 मई के बाद नई भूमिका में होगें मोदी और राहुल

मोदी कैबिनेट के चेहरे रविशंकर प्रसाद को पटना एयरपोर्ट पर काले झंडे दिखा दिये जाते है। झंडे दिखाने वाले बीजेपी के ही राज्यसभा सदस्य आर को सिन्हा के समर्थक थे। मोदी कैबिनेट के सबसे बडबोले मंत्री गिरिराज सिंह का टिकट नवादा से कट जाता है और गिरिराज इसके लिये बिहार प्रदेश के अध्यक्ष नित्यानंद राय को कटघरे में खडा करते हैं। शत्रुध्न सिन्हा खुल्लमखुला मोदी … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – 23 मई के बाद नई भूमिका में होगें मोदी और राहुल

ये मोदी और शाह की भाजपा है, इसको ‘दाग अच्छे लगते हैं’

जब सरकारी विभाग सत्ता की बांदी बन जाते हैं तो सुबूत भी सुबूत नही कहलाते . खुद आयकर विभाग ही अपने द्वारा जब्त की गयी चीजो पर संदेह करने लगता है क्योकि बिग बॉस ऐसा चाहते हैं. आखिर येदियुरप्पा को क्यो न बचाया जाए वह दक्षिण में बीजेपी का एकमात्र जाना पहचाना चेहरा है. येदियुरप्पा भारतीय जनता पार्टी का वो क्षेत्रीय चेहरा थे जिसकी वजह … पढ़ना जारी रखें ये मोदी और शाह की भाजपा है, इसको ‘दाग अच्छे लगते हैं’

क्या पकिस्तान के नाम पर देश को बेवकूफ़ बना रही है मोदी सरकार ?

यकीन मानिये पाकिस्तान के प्रति हालिया युद्धोन्माद का एक कारण पुलवामा हमले के साथ साथ लोकसभा चुनाव 2019 भी है। चुनाव बाद जो भी सरकार आएगी वह पाकिस्तान से बातचीत करेगी ही। यह बातचीत पाकिस्तान के प्रति अनुराग या हृदय परिवर्तन का परिणाम नहीं होगा बल्कि यह अंतराष्ट्रीय कूटनीतिक समीकरण और दोनों देशों के नाभिकीय अस्त्रों से लैस होने के कारण होगा। कूटनीति अंतर्राष्ट्रीय  परिस्थितियों, … पढ़ना जारी रखें क्या पकिस्तान के नाम पर देश को बेवकूफ़ बना रही है मोदी सरकार ?

विशेष – मेरे नारे ही, मेरा शासन हैं

आपको याद होगा कुछ दिनों पहले हम एक प्रस्तुति लेकर आये थे और हमने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक जादूगर हैं, और हर जादूगर की तरह उन्हें हिप्नोसिस आता है. यानि कि सम्मोहन. और वो देश की जनता के बहुत बड़े हिस्से का सम्मोहन कर रहे हैं. और क्या आप जानते हैं कि इस जादूगर के कुछ नारे भी हैं. वो नारे याद … पढ़ना जारी रखें विशेष – मेरे नारे ही, मेरा शासन हैं

लालकृष्ण आडवानी ने भारत को क्या दिया ?

लाल कृष्ण आडवाणी ( Lal Krishna Adwani ) की भारतीय राजनीति की देन पर हो सकता है आने वाले समय मे कोई विश्वविद्यालय शोध कराये और शोधपत्र प्रकाशित कराये। पर किन निष्कर्षों पर शोधार्थी और शोध पहुंचता है इसका अभी कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। पर एक बात मैं कह सकता हूँ कि, लाल कृष्ण आडवाणी की भारतीय राजनीति को जो देन रही … पढ़ना जारी रखें लालकृष्ण आडवानी ने भारत को क्या दिया ?

जेट एयरवेज को सरकारी बैंक क्यों उबारें ?

जेट एयरवेज और एतिहाद एयर लाइंस को बचाने के लिये सरकार ने बैंकों से धन देकर मदद करने के लिये कहा है। और उधर सरकारी कम्पनी बीएसएनएल अपने अधिकारियों और कर्मचारियों को तनख्वाह तक नहीं दे पा रही है। सरकार जितनी तत्परता से निजी और चहेते पूंजीपतियों के लिये सक्रिय होती है उतनी तत्परता से अपनी सरकारी कंपनियों के लिये नहीं खड़ी होती है। जेट … पढ़ना जारी रखें जेट एयरवेज को सरकारी बैंक क्यों उबारें ?

आसमान छू रही है बेरोज़गारी, राष्ट्रवाद के सहारे हवा हवाई प्रधानमंत्री मोदी – रविश कुमार

एक तरफ बेरोज़गारी ( Unemployment in india ) बढ़ रही है तो दूसरी तरफ काम मांगने वालों की संख्या घटती जा रही है। काम मांगने वालों की संख्या को लेबर पार्टिसिपेशन रेट कहते हैं मतलब यह रेट तभी बढ़ता है जब काम मिलने की उम्मीद हो। 2018 की तुलना में 2019 के पहले दो महीने में काम मांगने वालों की संख्या घटी है। सेंटर फॉर … पढ़ना जारी रखें आसमान छू रही है बेरोज़गारी, राष्ट्रवाद के सहारे हवा हवाई प्रधानमंत्री मोदी – रविश कुमार