महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में हो सकते हैं मध्यावधि चुनाव – सूत्र

मुंबई: सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़ कल ( 8 मार्च 2019 ) को महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा की विधानसभाएँ भंग हो सकती हैं. ऐसा बताया जा रहा है, कि पुलवामा अटैक के बाद हुई एयर स्ट्राईक से जो माहौल बना है, उसे भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनावों में भी कैश करना चाहती है. ये अलग बात है, कि चुनाव आयोग लोकसभा के साथ विधानसभा के … पढ़ना जारी रखें महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में हो सकते हैं मध्यावधि चुनाव – सूत्र

झारखंड – मदद करने आये 11 लड़कों ने किया 2 बहनों के साथ गैंगरेप

झारखंड के लोहरदगा से सामूहिक बलात्कार का चौकाने वाला मामला सामने आया है. इस मामले में दो नाबालिग बहनो को 11 लड़कों के द्वारा शिकार बनाया गया है. मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक़ दोनों पीड़ित बहनें सोलह अगस्त की देर शाम को अपने परिचित के साथ बाइक से घर लौट रही थी, तभी उनके साथ यह घटना हुई. लोहरदगा में भोक्ता बगीचा सबवे पुल … पढ़ना जारी रखें झारखंड – मदद करने आये 11 लड़कों ने किया 2 बहनों के साथ गैंगरेप

Ex Jharkhand CM Madhu Koda Convicted in Coal Scam

On Wednesday a Central Bureau Investigation (CBI) special court convicted ex Jharkhand CM in coal scam and held three guilty in the same case. The sentencing for the punishment is likely to take place on Thursday. Special CBI court judge Bharat Parashar held him and other three, former Coal Secretary HC Gupta, former Jharkhand chief secretary Ashok Kumar Basu and other one guilty. According to … पढ़ना जारी रखें Ex Jharkhand CM Madhu Koda Convicted in Coal Scam

व्यक्तित्व – “बिरसा मुंडा”, एक नौजवान आदिवासी योद्धा

एक समान्य सी प्रचलित कहावत है, जो इन्सान अच्छा होता है उसको ईश्वर उसके भाग्य में समय ही कम लिखते है.  ऐसा ही थे बिरसा मुंडा. एक नौजवान जो एक छोटी अवधि के लिए जिए, पर जिए उतना जबर जिए.  25 वर्ष के जीवन में उन्होंने इतने मुकाम हासिल कर लिए थे कि आज भी भारत की जनता उन्हें याद करती है और भारतीय संसद … पढ़ना जारी रखें व्यक्तित्व – “बिरसा मुंडा”, एक नौजवान आदिवासी योद्धा

पहले भूख से बच्ची की जान गयी, अब गाँव वालों और दबंगों ने धमकाया

देश की आर्थिक स्थिति की ख़बर हो या भूख मिटाने संबंधित ख़बर, हर क्षेत्र में भारत पिछड़ता ही जा रहा है. क्या आपने कभी गौर किया क्यों? नहीं किया होगा, हाँ हम ये ज़रूर गौर कर लेते हैं, कि किस ख़बर के सामने आने से और पीड़ितों के सामने आने से देश, राज्य, शहर या गाँव का नाम बदनाम हो रहा है. कुछ दिन पूर्व … पढ़ना जारी रखें पहले भूख से बच्ची की जान गयी, अब गाँव वालों और दबंगों ने धमकाया

एक बांगला कविता जिसका हिंदी अर्थ है – “भात दे हरामज़ादे”

बांग्लादेश के कवि रफीक़ आज़ाद की एक कविता का शीर्षक है ‘भात दे हरामज़ादे’. रफीक़ की मूल बांग्ला कविता का हिंदी अनुवाद 1990 में ज्ञानरंजन की पत्रिका ‘पहल’ के 39वें अंक में प्रकाशित हुआ था. ‘पहल’ के उस खास अंक में पैंतालीस बाँग्लादेशीय कवियों की 103 कविताओं के साथ वहाँ के साहित्यकार बदरुद्दीन उमर के पाँच महत्वपूर्ण लेख शामिल हैं. उस पूरे बांग्लादेशीय कविता-अंक के … पढ़ना जारी रखें एक बांगला कविता जिसका हिंदी अर्थ है – “भात दे हरामज़ादे”