USA और यूरोप में इस्लामोफोबिया को यूं मात दे रहे हैं मुसलमान

बात अभी ताज़ा ही है फीफा वर्ल्ड कप फुटबॉल टूर्नामेंट में फ़्रांस ने विजेता की ट्रॉफी पर क़ब्ज़ा किया था और उस फ़्रांस की टीम में सात विदेशी मूल के मुस्लिम खिलाडी थे, इन खिलाडियों ने न सिर्फ क्रोशिया को हराया बल्कि यूरोप में फैले प्रोपेगंडे ‘इस्लामोफोबिया’ को भी मुंह तोड़ जवाब दिया है. न सिर्फ अमेरिका बल्कि यूरोपियन देशों में ये प्रोपेगंडा दशकों से … पढ़ना जारी रखें USA और यूरोप में इस्लामोफोबिया को यूं मात दे रहे हैं मुसलमान

आपके मोटे होने का कारण आलू नहीं, बल्कि आपकी यह आदत है

यह एक सवाल है कि क्या आलू खाये?? क्या आलू खाकर हम मोटे हो जाएंगे?? जवाब : आप मोटे आलू के कारण नही बल्कि बैठे रहने और पैर पसारकर लेटे रहने के कारण होते है। खुद आपको आलू बनना है पर इल्ज़ाम आलू पर लगाते हो। एक 150 ग्राम के आलू में लगभग 110 कैलोरी होती है। यह आपकी दिन भर की लगभग 5 फीसदी … पढ़ना जारी रखें आपके मोटे होने का कारण आलू नहीं, बल्कि आपकी यह आदत है

मां बनने की बेहतर उम्र क्या है ?

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ ऊटा की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि तलाक की संभावना को कम करने के लिए शादी की परफेक्ट उम्र  30 से 34 वर्ष है। तो वहीँ दूसरी ओर  डॉक्टर्स का कहना है, इस उम्र में मां बनने पर महिला और होने वाली संतान दोनों हाई रिस्क पर पहुंच जाते हैं। डिलेवरी के बाद भी भविष्य में कई समस्याओं का … पढ़ना जारी रखें मां बनने की बेहतर उम्र क्या है ?

परिवार और डॉक्टर से न छुपाएं गर्भाशय एवं स्तन की तकलीफ़

महिलाएं अपने स्वास्थ्य को लेकर हद दर्जा लापरवाह रहती हैं। ये बात सभी ने सुनी होगी। (कोई और उनकी परवाह कर ले तो कोई हर्ज नहीं वैसे)। बहरहाल दिक्कत की बात यह है कि प्रजनन स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही से ज़्यादा डर, भ्रांतियां और शर्म-संकोच बैठा होता है मन में। डर इतना कि यदि स्तन या गर्भाशय में कोई तकलीफ़ है तो यह किसी गम्भीर … पढ़ना जारी रखें परिवार और डॉक्टर से न छुपाएं गर्भाशय एवं स्तन की तकलीफ़

क्या बिन तम्बाकू वाले पान मसाले ‘सेफ’ हैं

बिन तम्बाकू वाला पान मसाला खा रहे हैं, कत्था, चूना, सुपारी जैसी नैचुरल चीज़ें हैं इसमें। दिक्कत क्या है?” नहीं, ये किसी नशेड़ी पाउच पिचकू के विचार नहीं बल्कि एक सभ्य, सम्भ्रान्त, उच्च शिक्षित महिला के विचार हैं। थोड़ा ढूंढने पर समान विचारधारा वाले कई ‘मासूम’ मिले, जो समझते हैं तम्बाकू ही सारे फसाद की जड़ है। दरअसल हममें से ज़्यादातर यही सोचते हैं कि … पढ़ना जारी रखें क्या बिन तम्बाकू वाले पान मसाले ‘सेफ’ हैं

अपनों के प्रति आपकी असहिष्णुता उनको बीमार बना सकती है

पिछले महीने क्लिनिक पर एक पेशेंट आई थी। 20 साल की थी। मम्मी के साथ। एक मोटी सी फाइल भी थी विभिन्न जांचों की। उसे तकरीबन 5 अलग अलग प्रॉब्लम्स थीं। एक के बाद एक सुनने के बाद जो एक बात मुझे समझ आयी, कि बेशक उसे तमाम शारीरिक समस्याएं हैं स्पष्ट, पर सबके तार मन से जुड़े हैं। गहन अवसाद या डिप्रेशन में थी … पढ़ना जारी रखें अपनों के प्रति आपकी असहिष्णुता उनको बीमार बना सकती है