प्रयाग इलाहाबाद का हिस्सा है, इलाहाबाद नही!

इलाहबाद सनातनी सभ्यता से उभरा नाम है। इसको प्रयागराज बना कर, योगी सनातन धर्म का अपमान कर रहे हैं: प्रयाग प्रचीन है। इसका मतलब कुर्बानी से जुड़ा है। यानी ये एक यज्ञस्थल था। वेद-पुराण मे भी प्रयाग किसी शहर नही, बल्कि यज्ञस्थल का नाम है। प्रचीन पुस्तकों मे प्रयाग को त्रिवेणी भी कहा गया है। त्रिवेणी, यानी तीन नदियों–गंगा-यमुना-सरस्वती–के मिलन का स्थल, एक भौगोलिक स्तिथि … पढ़ना जारी रखें प्रयाग इलाहाबाद का हिस्सा है, इलाहाबाद नही!

2958 करोड़ रुपये खर्च, लेकिन नतीजा कुछ नहीं

लखनऊ: गंगा के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भावनात्मक जुड़ाव पर विपक्ष पहले से ही हमला कर रहा है. अब आंकड़े भी बता रहे हैं कि बीजेपी के पिछले दो वर्षों के शासनकाल में गंगा की सफाई के लिए आवंटित 3,703 करोड़ रुपये में से 2,958 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं, लेकिन इस पतित पावनी नदी की दशा जस की तस बनी हुई है. … पढ़ना जारी रखें 2958 करोड़ रुपये खर्च, लेकिन नतीजा कुछ नहीं