गांधी टोपी का इतिहास

गांधी कैप या गांधी टोपी का सम्बंध भारत के स्वाधीनता संग्राम के इतिहास से जुड़ा हुआ है। यह एक सामान्य से किश्ती या नाव के आकार की टोपी है जो आज़ादी की लड़ाई के दौरान सुराजी, ( यह शब्द उन सभी सत्याग्रहियों के लिये प्रयुक्त होता था जो गांधी जी के आदर्शों पर अंग्रेज़ो के विरुद्ध लामबद्ध थे, अक्सर प्रयुक्त होता है, ) लोग अपने … पढ़ना जारी रखें गांधी टोपी का इतिहास

कैसे थे महत्मा गांधी और बिड़ला परिवार के सम्बन्ध?

गांधी भी अजीब हैं। जो उनसे नफरत करते हैं वे भी उन जैसा बनना चाहते हैं। वे न उगलते बनते हैं न निगलते। न उन्हें खारिज किये बनता है, न उन्हें अपनाए। खारिज़ करें तो दुनिया सवाल करने लगती है, अपनाएं तो आत्मा की शुचिता और दौर्बल्य आड़े आता है। दुनिया के इतिहास में किसी देश के स्वातंत्रता संग्राम में शायद ही किसी व्यक्ति ने … पढ़ना जारी रखें कैसे थे महत्मा गांधी और बिड़ला परिवार के सम्बन्ध?

आज़ादी के जश्न के समय क्या कर रहे थे “महात्मा गांधी”

जब अपने देश को 15 अगस्त को आजादी नसीब हुई थी, तब गांधी जी ने कहा कि आजादी की घोषणा गांवो और शहरों में एक साथ की जाये. उस समय नेहरू गाँधीजी के सबसे नज़दीक़ी शिष्य थे और नेहरू बहुत तीक्ष्ण बुद्धि वाले थे. और  उन्हें विदेशी मामलों का बहुत गहरा ज्ञान था. भारत की राजधानी नई दिल्ली मे 15 अगस्त को आधी रात को … पढ़ना जारी रखें आज़ादी के जश्न के समय क्या कर रहे थे “महात्मा गांधी”

गाँधी के भारत में क्या क्या है, सरदार पटेल के नाम पर

सरदार पटेल की जयंती के दिन उनके नाम पर खूब राजनीतिक बयानबाजियां हुई. किसी ने उन्हें श्रद्धांजलि दिया तो किसी ने उनके द्वारा लगाए गए आरएसएस पर प्रतिबन्ध और की गई टिपण्णी का ज़िक्र किया. सोशलमीडिया भी सरदार पटेल से समबन्धित पोस्ट्स से भर दी गई. फ़ेसबुक हो या ट्विट्टर सभी जगह सरदार पटेल पर चर्चा होती रही. जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा … पढ़ना जारी रखें गाँधी के भारत में क्या क्या है, सरदार पटेल के नाम पर

वे लग गए गाँधी जैसा दिखने की कोशिश में, मगर क्या कोई बन सकता है गांधी ?

बहुत दिन बीते हमारे मुल्क में गाँधी जी पैदा हुए थे। बड़ी लड़ाई लड़ी उन्होंने। अपने मुल्क में भी और दीगर देश में भी। दूसरों की चोट से खुद चोटिल होते रहे और दूसरों को अपना समझकर उनके दुख-तकलीफों के निदान में खुद को होम करते रहे। अपने को जलाते-जलाते अपने मुल्क में उजाला ला दिए। शख्शियत ऐसी कि अपने देश में ही नहीं बल्कि … पढ़ना जारी रखें वे लग गए गाँधी जैसा दिखने की कोशिश में, मगर क्या कोई बन सकता है गांधी ?

नील नितिन मुकेश निभायँगे संजय गांधी का किरदार

बाएं असल फोटो, दाएं सुप्रिया के साथ नील मुंबई मधुर भंडारकर की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘इंदु सरकार’ में नील नितिन मुकेश के रोल को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन अब यह पक्का हो गया है कि वह संजय गांधी का रोल निभाएंगे। यह फिल्म 1975 की इमर्जेंसी पर आधारित है। फिल्म में इंदिरा गांधी का किरदार सुप्रिया विनोद निभाएंगी। यह फिल्म … पढ़ना जारी रखें नील नितिन मुकेश निभायँगे संजय गांधी का किरदार