समान,समावेशी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की चुनौती

किसी भी प्रगितिशील राष्ट्र के लिये  शिक्षा एक बुनियादी तत्व है इसलिए जरूरी हो जाता है कि इसके महत्त्व को समझते हुए ये सुनिश्चित किया जाये की समाज के सभी वर्गों के बच्चों को समान और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अवसर मिल सके. परन्तु इस देश का दुर्भाग्य ही कहा जायेगा की आजादी के 70 साल बीत जाने के बाद आज भी यह देश अपने सभी … पढ़ना जारी रखें समान,समावेशी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की चुनौती

नज़रिया – शिक्षा के बाज़ारीकरण से देश का भविष्य गर्त में जा रहा है

किसी भी राष्ट्र एंव समाज मे शिक्षा अपना विशेष व महत्वपूर्ण स्थान रखती है। राष्ट्र व व्यक्ति के निर्माण में, आर्थिक प्रगति में , सामाजिक नियंत्रण रखने में सबसे पहले शिक्षा की आवश्यकता होती है। भारतीय संदर्भ में शिक्षा भारत के विकास व सामाजिक उत्थान में कई सौ सालों से अहम भूमिका में रही है। शिक्षा व्यक्ति की समझ का निर्माण करती है उसके लक्ष्यों … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – शिक्षा के बाज़ारीकरण से देश का भविष्य गर्त में जा रहा है

मध्यप्रदेश में शिक्षा के हाल हुए बेहाल

मध्य प्रदेश में 12 वर्षो से भाजपा की सरकार है और  प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान. उन्होंने प्रदेश को विकास में हमेशा ही आगे बताया है पर उनके दावे खोखले हैं. इसका खुलासा हुवा है मध्य प्रदेश की विधानसभा सभा में कैग द्वारा रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद, कि मध्य प्रदेश में शिक्षा के हालात बद से भी बदतर हो गए है. मध्य प्रदेश … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश में शिक्षा के हाल हुए बेहाल

म.प्र. मे गिरता शिक्षा का स्तर और कुंभकरण बना शिक्षा विभाग

एनडीटीवी पर प्राइम टाइम पर मप्र के शाजापुर और आगर जिले में प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा की पोस्टमार्टम परक रपट देखकर बहुत दुख हुआ। प्रदेश में मैंने 1990 से 1998 तक बहुत सघन रूप से राजीव गांधी शिक्षा मिशन के साथ काम करके पाठ्यक्रम, पुस्तकें लिखना, शिक्षक प्रशिक्षण और क्षमता वृद्धि का कठिन काम किया था । अविभाजित मप्र में बहुत काम करके लगा था … पढ़ना जारी रखें म.प्र. मे गिरता शिक्षा का स्तर और कुंभकरण बना शिक्षा विभाग

देश के 23 आईआईटी में शिक्षकों के लगभग 35 प्रतिशत पद पड़े हैं खाली, RTI से खुलासा

इंदौर: NDTV के अनुसार आरटीआई से खुलासा हुआ है कि आईआईटी जैसे शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थान  भी टीचरों की कमी से बुरी तरह जूझ रहे हैं. देश की 23 आईआईटी में शिक्षकों के औसतन लगभग 35 प्रतिशत स्वीकृत पद खाली पड़े हैं. मध्य प्रदेश के नीमच के रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ ने बताया कि उनकी आरटीआई अर्जी के जवाब में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के … पढ़ना जारी रखें देश के 23 आईआईटी में शिक्षकों के लगभग 35 प्रतिशत पद पड़े हैं खाली, RTI से खुलासा