क्या आप इन ढाई महीने के लिए चैनल देखना बंद नहीं कर सकते?

अगर आप अपनी नागरिकता को बचाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप लोकतंत्र में एक ज़िम्मेदार नागरिक के रूप में भूमिका निभाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप अपने बच्चों को सांप्रदायिकता से बचाना से बचाना चाहते हैं तो न्यूज़ चैनलों को देखना बंद कर दें। अगर आप भारत में पत्रकारिता को बचाना … पढ़ना जारी रखें क्या आप इन ढाई महीने के लिए चैनल देखना बंद नहीं कर सकते?

सपा-बसपा गठबंधन, उत्तरप्रदेश और 2019 लोकसभा चुनाव

कांग्रेस में नेतृत्व भले ही बदला हो मगर अहंकार जस का तस है। पार्टी के नेताओं को समझ लेना चाहिए कि अब राष्ट्रीय और प्रादेशिक कुछ नहीं होता। चरण सिंह और देवेगौड़ा जैसे स्थानीय समझे जानेवाले नेताओं ने दिखाया है कि उनमें भी देश के सबसे बड़े पद को साध लेने का हुनर था, वो भी इस तथ्य के बावजूद कि उनके समर्थक और वोटर … पढ़ना जारी रखें सपा-बसपा गठबंधन, उत्तरप्रदेश और 2019 लोकसभा चुनाव

देशहित में गेस्टहाउस कांड भुला दिया है – मायावती

शनिवार 12 जनवरी 2019 को सपा-बसपा ने लोकसभा चुनाव से पहले गठबंधन का लखनऊ में एलान कर दिया. दोनों ही पार्टीयों के प्रमुख मायावती और अखिलेश यादव ने इसका एलान किया. इस दौरान दोनों ने नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला. इस दौरान सपा-बसपा ने एलान किया कि वह 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. दो सीटें रायबरेली व अमेठी में अपने उम्मीदवार … पढ़ना जारी रखें देशहित में गेस्टहाउस कांड भुला दिया है – मायावती

मध्यप्रदेश में बसपा ने जारी की पहली सूची, सभी 230 विधानसभा सीटों पर लड़ेगी चुनाव

मध्यप्रदेश में बहुजन समाज पार्टी ने कांग्रेस को झटका देते हुए सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है. साथ ही अपने 22 उम्मीदवारों का ऐलान भी कर दिया है. बसपा का अकेले चुनाव लड़ना कांग्रेस के लिए मुसीबत खड़ा कर सकता है. मौजूदा चार में से तीन विधायकों को पार्टी ने फिर से उम्मीदवार बनाया है, मुरैना के दिमनी विधानसभा से … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश में बसपा ने जारी की पहली सूची, सभी 230 विधानसभा सीटों पर लड़ेगी चुनाव

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, बसपा और सपा की क्या होगी भूमिका?

मध्यप्रदेश में कांग्रेस और बसपा के बीच गठबंधन खुलकर सामने नहीं आया है. आम आदमी पार्टी ने सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर के तीसरे मोर्चे को और मजबूती दे दी है. तीसरे मोर्चे के प्रमुख दल बसपा की वजह से कांग्रेस अंबाह, मनगवां और रेगांव में तीसरे नंबर पर पहुंच गई थी. वहीं, दिमनी में भाजपा तीसरे पायदान पर थी. इसी … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, बसपा और सपा की क्या होगी भूमिका?

ये गठबंधन के मेले राजनीति में कम ना होंगे

अरे भाई, आप मायावती जी से गठबंधन करना चाहते हो तो कर लेना उनसे भी गठबंधन मगर हम जो यहां बैठे हैं हमसे भी तो गठबंधन कर लो क्योंकि हमसे बिना गठबंधन किये क्या तुम जीत पाओगे बताओ जरा,, हाथ जोडकर मजाकिया अंदाज में ये बात कहने वाले शख्स बहुजन संघर्ष दल के सर्वेसर्वा फूलसिंह बरैया थे जो भोपाल के गांधी भवन के हाल में … पढ़ना जारी रखें ये गठबंधन के मेले राजनीति में कम ना होंगे

कैराना उपचुनाव सहित अन्य स्थानों पर क्यों खराब हुई EVM ?

देश की 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए आज 28 मई 2018 को मतदान हो रहा है. जिनके नतीजे 31 मई को आयेंगे. सभी जगह सुबह से ही मतदाता वोटिंग के लिए कतार में लगे हुए हैं. इसी बीच कुछ जगहों से ईवीएम में ख़राबी की खबर आई है. उत्तरप्रदेश के कैराना लोकसभा और नुरपूर विधानसभा के लिए हो रहे उपचुनावों … पढ़ना जारी रखें कैराना उपचुनाव सहित अन्य स्थानों पर क्यों खराब हुई EVM ?

सपा में शामिल हुए योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री के दामांद

उत्तरप्रदेश में हुए उपचुनावों के साईडइफेक्ट्स सामने आने लगे हैं, ताज़ा घटनाक्रम में योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के दामाद डा. नवल किशोर ने समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं. यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नवल किशोर के सपा में शामिल होने की बात कही. इस दौरान उपचुनाव में मिली जीत पर अखिलेश यादव ने कहा … पढ़ना जारी रखें सपा में शामिल हुए योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री के दामांद

यूपी-बिहार में उपचुनाव के नतीजों के क्या हैं मायने ?

बिहार के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी बीजेपी ने हार का मुँह देखा बिहार की एक और उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों पर हार के बाद भाजपा को 2019 के लिए अलग रणनीति पर विचार करना पड़ेगा।  1991 के बाद बीजेपी पहली बार गोरखपुर सीट से हारी और 28 साल बाद गोरखपुर से मठ के बाहर का सांसद बना है। उत्तर प्रदेश में … पढ़ना जारी रखें यूपी-बिहार में उपचुनाव के नतीजों के क्या हैं मायने ?

दलित एवं पिछड़ों की आवाज़ थे कांशीराम

अलग अलग समय पर दुनिया भर में सामाजिक अत्याचारों और भेदभाव के खिलाफ संघर्ष होते रहे हैं.इन संघर्षों से कई बड़े नेता उभर कर सामने आते रहे हैं.जैसे दक्षिण अफ्रीका में नस्लीय भेदभाव के विरुद्ध नेल्सन मंडेला, अमरीका में अब्राहम लिंकन एवं मार्टिन लूथर किंग. भारत में भी जात-पात, छुआछूत तथा नस्लीय भेदभाव के विरुद्ध बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर ने बड़े पैमाने पर संघर्ष … पढ़ना जारी रखें दलित एवं पिछड़ों की आवाज़ थे कांशीराम

जब साथ आये थे कांशीराम और मुलायम

बाबरी मस्जिद राम मंदिर विवाद के दौर की बात है,बाबरी मस्जिद ढहा दी गयी थी,चारों तरफ हाहाकार सा मचा हुआ था,राजनितिक स्थिति भी बेहतर नही थी,और बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के बाद बर्खास्त हो चुकी सरकार को दोबारा चुने जाने के लिए चुनाव होना था | भाजपा पूरी तेयारी में थी क्यूंकि उसके पास “राम मंदिर” का मुद्दा था और उसे लेकर वो आश्वस्त थी,ये … पढ़ना जारी रखें जब साथ आये थे कांशीराम और मुलायम

जब कांशीराम ने किया था, मायावती को मुख्यमंत्री बनाने का वादा

देश में जब कभी पिछड़ी जाति और दलित वर्ग के अधिकारों की बात की जाती है, तो सबसे पहले जुबान पर डॉ. भीमराव अंबेडकर, कांशीराम का नाम आता है.लेकिन 21वीं सदी में जिस महिला दलित नेता ने ना केवल उत्तर भारत अपितु शेष भारत पर भी अपनी छाप छोड़ी, वह हैं ‘मायावती’. मायावती वो नाम है जो देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश का … पढ़ना जारी रखें जब कांशीराम ने किया था, मायावती को मुख्यमंत्री बनाने का वादा

दो चुनाव हारने के बाद तीसरे चुनाव में इतिहास रच दिया था “बहनजी” ने

जिसने अपनी कौम को सर उठाकर चलना सिखाया, जिसने अपनी कौम को रुतबा दिलाया,जिसने अपनी कौम की रहनुमाई की और पुरी ईमानदारी से की,यह “मायावती” है वही मायावती जिसने “चमार” शब्द सुनकर अपने अंदर ज़ब्त कर लिया था,और उस समुदाय को इज़्ज़त दिलाने का वादा किया था।जी हां यहाँ ज़िक्र है भारतीय राजनीति की “बहन जी” का। वही मायावती जिसने अपनी कौम की ख़िदमत के … पढ़ना जारी रखें दो चुनाव हारने के बाद तीसरे चुनाव में इतिहास रच दिया था “बहनजी” ने

ईवीएम है, ईश्वर का वरदान नहीं

सलीम अख्तर सिद्दीकी उत्तर प्रदेश में हो रहे निकाय चुनाव में एक बार फिर ईवीएम पर सवाल उठे हैं। मेरठ और कानपुर से खबरें आई हैं कि ईवीएम का कोई भी बटन दबाने पर वोट कमल के सामने वाली लाइट जल रही थी। मेरठ से तो बाकायदा एक वीडियो भी वायरल हुआ, जिसमें साफ दिख रहा था कि हाथी वाला निशान दबाने पर कमल वाले … पढ़ना जारी रखें ईवीएम है, ईश्वर का वरदान नहीं

क्या मुस्लिम सियासी मुहब्बत और सियासी नफ़रत से बाहर आयेंगे ?

मौलाना आज़ाद ने क्या किया, क्या नहीं किया और वह क्या और कर सकते थे, इस पर खूब बहस हो सकती है. नेहरू को भी हम सुक़ूत-हैदराबाद जो होम मिनिस्टर पटेल के दौर में हुआ और उस क़त्ल आम, उसके लिए उन पर ऊँगली उठाते हैं. लेकिन ये भी सच है कि मौलाना आज़ाद की शख्सियत की वजह से बोहत कुछ बच गया और 47 … पढ़ना जारी रखें क्या मुस्लिम सियासी मुहब्बत और सियासी नफ़रत से बाहर आयेंगे ?

अंसारी बंधुओं का गढ़ बनेगा आज़मगढ़

उत्तरप्रदेश के मऊ से विधायक मुख़्तार अंसारी के बेटे और बहुजन समाज पार्टी के युवा तेज़तर्रार नेता अब्बास अंसारी पिछले 10 दिनों से सपा संस्थापक मुलायम सिंह के लोकसभा क्षेत्र आज़मगढ़ में लगातार भ्रमण कर रहे हैं. उनका यह भ्रमणकार्य बहुत ही तेज़ी से चालू है, इन दस दिनों में अब्बास ने करीब 50 गांव का दौरा किया है. साथ ही सघन जन सम्पर्क भी … पढ़ना जारी रखें अंसारी बंधुओं का गढ़ बनेगा आज़मगढ़

आजमगढ़ में राष्ट्रीय ओलमा काउन्सिल ने रखी बसपा की लाज

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में से सिर्फ एक जिला आजमगढ़ है जहाँ राष्ट्रीय ओलमा कौंसिल के समर्थन से बसपा 4 सीट जीतने में कामयाब हुई है यानि कि BSP की लगभग 25% सीट आज़मगढ़ से आई है, क्योंकि बसपा को 19 में से 4 सीटे आज़मगढ़ से मिली है। इस जीत का श्रेय अवश्य RUC व उसके अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी की ही देन … पढ़ना जारी रखें आजमगढ़ में राष्ट्रीय ओलमा काउन्सिल ने रखी बसपा की लाज

उत्तर प्रदेश के चर्चित मुख़्तार अंसारी परिवार से जुड़े कुछ अनछुए और दिलचस्प पहलू।

मुख़्तार अंसारी की छवि भले ही एक बाहुबली की हो, लेकिन कम लोग ही जानते होंगे कि वर्तमान समय में देश में शायद ही कोई ऐसा जीवित व्यक्ति होगा, जिसके सगे दादा व नाना ने देश के लिए इतनी सेवाएं दी होंगी, जितना कि मुख़्तार के दादा व नाना ने दी हैं। मुख़्तार अंसारी के दादा डॉ॰ मुख्तार अहमद अंसारी, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान … पढ़ना जारी रखें उत्तर प्रदेश के चर्चित मुख़्तार अंसारी परिवार से जुड़े कुछ अनछुए और दिलचस्प पहलू।

यूपी में चुनाव है, इसलिए मोदी दशहरा मनाने लखनऊ आ रहे हैं – मायावती

लखनऊ : बसपा सुप्रीमों मायावती ने भाजपा और अपने विरोधी दलों पर ज़बरदस्त हमला बोला है, लखनऊ में आयोजित बसपा की विशाल रैली में मायावती ने अपने सारे विरोधी दलों पर जमकर हमला बोला, अपार जनसमूह को देख मायावती का चेहरा गदगद नज़र आ  रहा था. मौक़ा था बसपा के संस्थापक कांशीराम की पुण्यतिथि पर आयोजित एक रैली का, जिसमे मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी … पढ़ना जारी रखें यूपी में चुनाव है, इसलिए मोदी दशहरा मनाने लखनऊ आ रहे हैं – मायावती

गौरी-गणेश की पूजा न करने की बात कहने वाले पूर्व बसपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य भाजपा में शामिल

कुछ दिन पूर्व मायावती पर टिकट बेचने का आरोप लगाकर बसपा छोड़ने वाले पूर्व बसपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य भाजपा में शामिल हो गए हैं | आज भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य को लेकर सस्पेंस बना हुआ था, कि वो किस पार्टी को जॉइन करेंगे ? बीजेपी के लिए यूपी चुनाव से पहले यह एक बड़ा दांव माना जा रहा है. … पढ़ना जारी रखें गौरी-गणेश की पूजा न करने की बात कहने वाले पूर्व बसपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य भाजपा में शामिल