नज़रिया – हाफ़िज़ सईद और प्रज्ञा ठाकुर में क्या है समानता ?

अभी पिछले साल ही ( 2018) में पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में चुनाव हुए थे। पाकिस्तान में हुए उन चुनावों में सबकी नज़र कुछ खास सवालों के जवाब ढूंढ रही थी। पहला सवाल ये था, कि क्या इमरान खान क़ामयाब हो पाएंगे ? जिसका जवाब हमें बख़ूबी मिला और इमरान खान पाकिस्तान के सर्वोच्च पद पर पहुंच गए। इन्हीं चुनावों में एक चीज़ और हुई कि … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – हाफ़िज़ सईद और प्रज्ञा ठाकुर में क्या है समानता ?

कांग्रेस की आठवी सूची में मध्यप्रदेश के 9 उम्मीदवारों के नाम

नई दिल्ली: कांग्रेस ने लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र अपनी आठवी सूची जारी कर दी है. इस सूची में जहाँ कांग्रेस के दिग्गज नेताओं के नाम हैं. वहीं मध्यप्रदेश के उमीदवारों के पहली बार नाम आये हैं. इस सूची में कुल 38 नाम हैं, जिसमें से 9 नाम मध्यप्रदेश के हैं. भोपाल से लड़ेंगे दिग्विजय सिंह वैसे तो इस लिस्ट के आने के पहले ही मध्यप्रदेश … पढ़ना जारी रखें कांग्रेस की आठवी सूची में मध्यप्रदेश के 9 उम्मीदवारों के नाम

क्या सॉफ्ट हिंदुत्व के चक्कर में मोब लिंचिंग पर खामोश है कांग्रेस?

जब सारा देश मोबलिचिंग की आग की झुलस रहा है तो ऐसे में मध्यप्रदेश कैसे पीछे रह सकता है, मोब लिचिंग की आग यहां तक पहुंच गई अभी तक सुनते आ रहे थे की दलित-मुसलमानो का उत्पीड़न हो रहा है. आज हम भी उसके गवाह बन गए, घटना 15 तारीख की है सिरोंज से एक मुस्लिम परिवार अपनी क्वालिस गाड़ी से गंजबासौदा अपनो रिश्तेदारों से … पढ़ना जारी रखें क्या सॉफ्ट हिंदुत्व के चक्कर में मोब लिंचिंग पर खामोश है कांग्रेस?

विशेष – मध्यप्रदेश में हर दिन 15 महिलायें होती हैं रेप का शिकार

मध्यप्रदेश – जिसने पिछले कुछ वर्षों से देश की ‘बलात्कार राजधानी’ होने की शर्मनाक पहचान पाई है, एनसीआरबी डेटा के मुताबिक पंजीकृत मामलों में ज़्यादातर शिकायतें वास्तविक हैं। यह जानकारी एमपी पुलिस के डेटा के मुताबिक़ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2017 में पुलिस के पास पंजीकृत 5,310 बलात्कार के मामलों में से  162 ऐसे मामले सामने आए थे। जिनमें शिकायत दर्ज कराई … पढ़ना जारी रखें विशेष – मध्यप्रदेश में हर दिन 15 महिलायें होती हैं रेप का शिकार

भोपाल- पूर्व प्रेमी ने दोस्तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप

भोपाल में पूर्वप्रेमी द्वारा अपने दोस्तों के साथ एक लड़की के गैंगरेप की खबर सामने आई है. खबर के अनुसार बीएससी सेकंड ईयर की 20 वर्षीय छात्रा को शनिवार शाम में बंधक बनाया गया और उसके साथ गैंगरेप किया. कोचिंग से पढ़ाई के बाद मिलन रेस्टोरेंट में खड़ी छात्रा को उसके ही एक्स  ब्वॉयफ्रेंड द्वारा झांसा देकर किडनैप कर लिया गया था. पुलिस उपमहानिरीक्षक भोपाल … पढ़ना जारी रखें भोपाल- पूर्व प्रेमी ने दोस्तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप

वेतन विसंगतियों के विरोध में, मध्यप्रदेश की 2500 नर्स हड़ताल पर

मध्यप्रदेश में करीब 2500 से ज्यादा नर्सें बेमियादी हड़ताल पर चली गईं हैं. भोपाल के अलावा इंदौर, ग्वालियर एवं जबलपुर में भी नर्सें की हड़ताल शुरू हो गई है. उनके साथ पैरामेडिकल स्टाफ भी हड़ताल में शामिल हो गया है.  नर्सों का कहना है कि जब तक उनकी मांगे पूरी होने का आदेश जारी नहीं हो जाते हैं तब तक  हड़ताल चलती रहेगी. मध्य प्रदेश … पढ़ना जारी रखें वेतन विसंगतियों के विरोध में, मध्यप्रदेश की 2500 नर्स हड़ताल पर

बिलाल की ख़ता सिर्फ इतनी थी कि वो कश्मीरी है

मानसिकता समझिए। बिलाल अहमद वानी नाम का एक शख़्स शताब्दी एक्सप्रेस में बिना टिकट पकड़ा गया। उसने टीटी को बताया कि वो ग़लत ट्रेन मे चढ़ गया है और उसके साथी दूसरी ट्रेन में रह गए। टीटीई ने देरी न करते हुए पुलिस को बताया कि उसने बिना टिकट कश्मीरी पकड़ा है। जीआरपी से मैसेज फ्लैश हुआ कि शताब्दी एक्सप्रेस से कश्मीरी आतंकवादी पकड़ा गया … पढ़ना जारी रखें बिलाल की ख़ता सिर्फ इतनी थी कि वो कश्मीरी है

भोपाल गैंगरेप में 52 दिन में फैसला, चारों दोषियों को उम्रकैद

मध्य प्रदेश की राजधानी में दिल दहला देने वाली गैंगरेप की घटना में चारों आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है.भोपाल की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सिविल सेवाओं की तैयारी करने वाली छात्रा के साथ बलात्कार करने वाले चार लोगों को उम्र कैद की सजा सुनाई है. सभी दोषियों को नवंबर में कोचिंग से लौट रही 19 वर्षीय छात्रा का अपहरण करने और … पढ़ना जारी रखें भोपाल गैंगरेप में 52 दिन में फैसला, चारों दोषियों को उम्रकैद

जब ज़हरीले गैस ने ले ली थी, भोपाल शहर की हज़ारों जानें

भोपाल गैस कांड, एक ऐसी भयावह घटना. जो शायद ही इससे प्रभावित परिवार भूल पायें हों. आज 33 साल बाद भी उस तबाही के निशाँ देखे जा सकते हैं. जब एक गैस के रिसाव की वजह से भोपाल और उसके आस-पास मातम पसर गया था. हर किसी की आँखे जलन और तकलीफ़ की वजह से रौशनी खो रही थीं, तो कुछ लोग इस दुनिया को … पढ़ना जारी रखें जब ज़हरीले गैस ने ले ली थी, भोपाल शहर की हज़ारों जानें

मध्यप्रदेश में ब्यूरोक्रेसी की आत्म मुग्धता चरम पर है

मप्र में ब्यूरोक्रेसी की आत्म मुग्धता चरम पर है और इसमे वे अपने को, अपने काम को और अपनी छबि को चमकाने के लिए किसी भी हद तक जाकर काम कर रहे है इसके विपरीत वे अपने मातहतों के साथ बहुत बुरा व्यवहार भी कर रहे है. यह बात इन दो उदाहरणों से समझी जा सकती है. ऐसा नहीं है कि या कोई आज की … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश में ब्यूरोक्रेसी की आत्म मुग्धता चरम पर है