वादा फरामोशी के पांच साल

भारतीय जनता पार्टी के एक आम समर्थक से लेकर पार्टी अध्यक्ष तक को यह बात पता है कि बंगाल में अराजकता है। रोज कोई न कोई खबर छापी जाती है कि वहां दुर्गापूजा रुक गयी। हिंदुओं पर अत्याचार हो रहा है। मालदा के दंगों से लेकर अवैध रूप से बांग्लादेशी लोगों और रोहिंगयों तक के बंगाल में पसर जाने आदि आदि की खबरें खूब प्रसारित … पढ़ना जारी रखें वादा फरामोशी के पांच साल

आखिर 2019 में मोहन भागवत चुप क्यों हैं?

आरएसएस ने अपने काडर को तो चुनाव में लगाया हुआ है लेकिन खुद मोहन भागवत और उनके नंबर टू भैयाजी जोशी चुनाव की घोषणा के बाद से ठंडी सांस खींचे हुये हैं. भागवत का आखिरी बयान बालाकोट सर्जिकल स्ट्राइक के बाद फरवरी के तीसरे सप्ताह में आया था और तब से शांत हैं. 2014 के चुनाव की याद करें तो मतदान के कई सप्ताह पहले … पढ़ना जारी रखें आखिर 2019 में मोहन भागवत चुप क्यों हैं?

लालकृष्ण आडवानी ने भारत को क्या दिया ?

लाल कृष्ण आडवाणी ( Lal Krishna Adwani ) की भारतीय राजनीति की देन पर हो सकता है आने वाले समय मे कोई विश्वविद्यालय शोध कराये और शोधपत्र प्रकाशित कराये। पर किन निष्कर्षों पर शोधार्थी और शोध पहुंचता है इसका अभी कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। पर एक बात मैं कह सकता हूँ कि, लाल कृष्ण आडवाणी की भारतीय राजनीति को जो देन रही … पढ़ना जारी रखें लालकृष्ण आडवानी ने भारत को क्या दिया ?

राहुल के मध्यप्रदेश दौरे के वक़्त कांग्रेस में शामिल हुए ये भाजपा नेता

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार और शुक्रवार को दो दिवसीय दौरे पर मध्य प्रदेश में थे. शुक्रवार को रीवा राजघराने के बड़े नाम पुष्पराज सिंह ने राहुल गांधी से मुलाकात की और कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान किया. राहुल गांधी ने चित्रकूट और सतना में जनसभा की और लोगों के बीच भी गये. पुष्पराज भाजपा के पूर्व विधायक हैं. पुष्पराज सिंह कांग्रेस के कार्यकाल … पढ़ना जारी रखें राहुल के मध्यप्रदेश दौरे के वक़्त कांग्रेस में शामिल हुए ये भाजपा नेता

अमित शाह जी पचास साल सत्ता में रहने का रोडमैप क्या है?

अमित शाह कह रहे हैं कि बीजेपी आने वाले पचास साल तक सत्ता में रहेगी. अगर ये जुमला नहीं है तो इसके पीछे कोई रोडमैप ज़रूर होगा वर्ना इतना बड़ा दावा कौन कर सकता है. इस दावे के पीछे अगर सामाजिक परिवर्तन, जो आने वाली राजनीति को प्रभावित करते हैं उसे थोड़ी देर के लिए किनारे रख भी दें तो पचास साल में कम से … पढ़ना जारी रखें अमित शाह जी पचास साल सत्ता में रहने का रोडमैप क्या है?

बीजेपी अगर कुछ विधायक ख़रीदकर सरकार बना लेती, तो वो महानैतिक काम होता.

मास्टरस्ट्रोक और नैतिकता संख्या कम थी. येदियुरप्पा ने राज्यपाल को जो चिट्ठी सौंपी, उसमें विधायकों के नाम नहीं थे. राज्यपाल ने मांग से आगे जाकर 15 दिन का टाइम दे दिया. येद्दि ने जोश में अगली सुबह शपथ भी ले ली. अकेले कैबिनेट की मीटिंग भी कर ली. कांग्रेस-जेडीएस के विधायकों को ख़रीदने की बेतरह कोशिश की. अब तो कई फोन टेप्स भी सामने आ … पढ़ना जारी रखें बीजेपी अगर कुछ विधायक ख़रीदकर सरकार बना लेती, तो वो महानैतिक काम होता.

मध्यप्रदेश में भाजपा के लिए चिंता की लकीरें

हाल ही में मध्यप्रदेश में दो सीटों पर हुए उपचुनावों में कांग्रेस ने जीत दर्ज की है. पहले भी ये दोनों सीट कांग्रेस के ही पास थीं. पर दोनों सीटों से विधायकों के निधन के बाद खाली हुई इन सीटों पर उपचुनाव कराया गया था. दोनों ही सीटों पर भाजपा और कांग्रेस ने सारी ताक़त झोंक दी थी. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पूरे … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश में भाजपा के लिए चिंता की लकीरें

राहुल ने पूछा- प्रधानमंत्री जी राफेल डील पर आखिर कब बोलेंगे

संसद में राष्ट्रपति के भाषण पर धन्यवाद चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी परिवार, कांग्रेस, लोकसभा में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद पर जुबानी खूब हमले किए. संसद के मीडिया स्टैंड में पहुंचते समय राहुल ने मोदी पर पलटवार करते हुए पत्रकारों से कहा, “मैंने मोदी जी के पूरे भाषण को ध्यान से सुना. मोदी जी लोकसभा में … पढ़ना जारी रखें राहुल ने पूछा- प्रधानमंत्री जी राफेल डील पर आखिर कब बोलेंगे

क्या फ़र्क है, “वाजपेयी और वर्तमान भाजपा में ” ?

अटल बिहारी वाजपेयी संभवतः राजनीती के उस विरासत  पीढ़ी के अकेले ऐसा नेता हैं,जो  राजनीतिक और वैचारिक धुर विरोधी नेता को भी सम्मान देते थे. वो अटल जैसा ही इंसान के लिए ही कहा या सुना जा सकता है, जब संसद में एनडीए सरकार पर कांग्रेस को या अन्य दल को भाजपा पर हमला करना होता था तो अटल जी हस्तक्षेप करते तो धुर-विरोधियों को … पढ़ना जारी रखें क्या फ़र्क है, “वाजपेयी और वर्तमान भाजपा में ” ?

अब राजस्थान और मध्य प्रदेश में भाजपा के लिए हार्दिक बनेंगे चुनौती

गुजरात विधानसभा चुनावों में भाजपा के नाक में दम करने वाले हार्दिक पटेल, लगता है भाजपा के पीछे हाथ धोकर  पड़ गये है, कुछ ऐसे संकेत दिए हैं हार्दिक पटेल ने कि , अब राजस्थान और मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों में भाजपा के खिलाफ प्रचार करेंगे. गुजरात विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कहा कि गुजरात में बीजेपी का गुरूर तोड़ने … पढ़ना जारी रखें अब राजस्थान और मध्य प्रदेश में भाजपा के लिए हार्दिक बनेंगे चुनौती

भाजपा विधायक ने विराट और अनुष्का की देशभक्ति पर उठाये सवाल

भारत के नेता, अपने काम की वजह से कम, बयानों की वजह से ज्यादा चर्चा में रहते हैं. एक ऐसे ही भाजपा  विधायक हैं. जिनका नाम पन्नालाल शाक्य है जो मध्य प्रदेश की गुना सीट से विधायक हैं.   पन्नालाल शाक्य, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से नाराज हैं. विधायक साहब को नाराजगी इस बात से है कि क्रिकेटर विराट कोहली ने एक्ट्रेस अनुष्का … पढ़ना जारी रखें भाजपा विधायक ने विराट और अनुष्का की देशभक्ति पर उठाये सवाल

पांच साल में बीजेपी को चंदे में मिले 80,000 करोड़ : अन्ना हजारे

अन्ना हजारे आजकल फिर से चर्चा में है. अन्ना केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन करने की तैयारी में है. और अन्ना ने बीजेपी पर हमलावर रुख अपनाया हुआ है. अन्ना ने बीजेपी पर चंदे से सम्बंधित गंभीर आरोप लगाए है. क्या आरोप लगाए है? बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए शुक्रवार को अन्ना ने कहा कि ‘पिछले तीन साल के एनडीए शासन काल में भारत … पढ़ना जारी रखें पांच साल में बीजेपी को चंदे में मिले 80,000 करोड़ : अन्ना हजारे

व्यंग़ – बहुरुपिया देवता श्री रामोदी

आजकल हमारे देश में एक नए देवता पैदा हो गए हैं। अब वे खुद ही पैदा हुए या उन्हें भक्तों ने पैदा किया, यह कहना कठिन है। जो भी हो, देवता तो वे अब हो ही चुके हैं। जैसे सभी देवताओं की कुछ अजीबोगरीब विशेषताएं होती हैं, वैसे ही इनकी भी हैं। इनकी मगर कुछ ज्यादा ही हैं। जैसे बहुत सारे देवताओं में कुछ मनुष्यों … पढ़ना जारी रखें व्यंग़ – बहुरुपिया देवता श्री रामोदी