नज़रिया – क्या यह बीमार होते हुये समाज का लक्षण नहीं है

उनका इरादा साफ है। जब तक पाकिस्तान रहेगा तब तक वे देश मे शिक्षा, स्वास्थ्य, रोज़गार आदि जनहित के मुद्दों पर कुछ नहीं करेंगे। न तो वे कोई बात करेंगे और न उनके समर्थक इन मुद्दों पर कोई सवाल उठाएंगे। विरोधी उठाते रहें सवाल और पूछते रहें जो भी मन हो, उससे उन्हें कोई फर्क ही नहीं पड़ता है। ऐसी मानसिकता उनकी बन गयी है। … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – क्या यह बीमार होते हुये समाज का लक्षण नहीं है

बेरोज़गारी की रिपोर्ट से डर गई सरकार, 45 साल में सबसे ज़्यादा

2017-18 के लिए नेशनल सैंपल सर्वे आफिस की तरफ से कराये जाने वाले श्रम शक्ति सर्वे के नतीजों को सरकार दबा रही है। इस साल पिछले 45 साल में बेरोज़गारी की दर सबसे अधिक रही है। दिसंबर 2018 के पहले हफ्ते में राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग( NSC) ने सर्वे को मंज़ूर कर सरकार के पास भेज दिया लेकिन सरकार उस पर बैठ गई। यही आरोप लगाते … पढ़ना जारी रखें बेरोज़गारी की रिपोर्ट से डर गई सरकार, 45 साल में सबसे ज़्यादा

देश में लगातार बढ़ रही है बेरोज़गारी

देश में बेरोजगारी का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. लेबर ब्यूरो के ताजा सर्वे के मुताबिक बेरोजगारी ने पिछले 4 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. हालांकि अभी लेबर ब्यूरो ने सर्वे सार्वजनिक नहीं किया है. लेकिन सूत्रों के अनुसार साल 2013-2014 में बेरोजगारी दर 3.4 फीसदी पर रही थी जो साल 2016-2017 में 3.9 फीसदी पर पहुंच गई है, विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियां … पढ़ना जारी रखें देश में लगातार बढ़ रही है बेरोज़गारी

रविश की कलम से- ओ जाने वाले हो सके तो भारत लौट के आना.

मुंबई के मशहूर बिल्डर हीरानंदानी ग्रुप के संस्थापक सुरेंद्र हीरानंदानी ने भारत की नागरिकता छोड़ दी है। अब वे साइप्रस के नागरिक हो गए हैं। साइप्रस की ख़्याति टैक्स हावेन्स के रूप में है, मतलब जहां कर चुकाने का झंझट कम है। हीरानंदानी ने कहा है कि इस कारण से उन्होंने नागरिकता नहीं छोड़ी है। भारतीय पासपोर्ट पर वर्क वीज़ा लेना मुश्किल हो जाता है … पढ़ना जारी रखें रविश की कलम से- ओ जाने वाले हो सके तो भारत लौट के आना.

बेरोज़गारी की स्थिति भयावह, रेलवे के 90 हज़ार पदों के लिये 2.5 करोड़ आवेदन

भारतीय रेलवे ने हाल ही में रेलवे की 90,000 नौकरियों में भर्ती के लिए आवेदन मांगे थे जिसके लिए 2.5 करोड़ अर्थात ऑस्ट्रेलिया की जनसंख्या से भी अधिक लोगो ने आवेदन भरे हैं. यह संख्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2014 के उस वादे की पोल खोल रही है जिसमे उन्होंने बेरोज़गारी मिटाने व हर साल 2 करोड़ नोकरियाँ देने को कहा था। 2014 में भारत … पढ़ना जारी रखें बेरोज़गारी की स्थिति भयावह, रेलवे के 90 हज़ार पदों के लिये 2.5 करोड़ आवेदन

रोजगार की कमी से युवा परेशान, सरकार बेफिक्र

मोदी सरकार द्वारा किए गए दांवों की पोल एक एक करके खुलती जा रही है, कहीं अर्थव्यवस्था न सुधार पाना, कहीं राजनीतिक और चुनावी रूप से हार का सामना करना,ऊपर से कर्जा लेकर भागने वालो को ढूंढ कर लाना जैसे कठिन काम ,मोदी सरकार चारो तरफ कई कठिन प्रश्नों पर घेरी आ रही है लेकिन असली समस्या अभी आनी बाकी है जिस नोजवान जनता के … पढ़ना जारी रखें रोजगार की कमी से युवा परेशान, सरकार बेफिक्र