फासीवादी ताकतें हिन्दू और मुस्लिम में भेद नहीं करतीं !

6 अक्तूबर को अलीगढ में बजरंग दल ने हमारे ऊपर हमला किया। हम वहां पुलिस,गुंडों व सांप्रदायिक ताकतों के गिरोह द्वारा की गई ब्राहमणों और मुसलमानों की हत्याओं के बारे में जानकारी इकठ्ठा करने गए थे। पाखुड़ी पाठक और उनकी टीम भी मेरे साथ थी। हिन्दू /सनातनी पहली बार बजरंगियों को ललकारने पहुंचे थे। यह आरएसएस-बजरंग दल और भाजपा द्वारा पोषित गुंडों व सांप्रदायिक ताकतों … पढ़ना जारी रखें फासीवादी ताकतें हिन्दू और मुस्लिम में भेद नहीं करतीं !

नज़रिया – 1857 का राष्ट्रवाद, नरेंद्र मोदी और 2019

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव ABVP ने धांधली से जीता। सच्ची तस्वीर सामने आई मतगणना के छठे राउंड में। ABVP के उम्मीदवार NSUI से पीछे चल रहे थे। अचानक ईवीएम ने काम करना बंद कर दिया। कौटिंग रोक दी गयी। कुछ घंटो बाद जब कौटिंग शुरू हुई तो ABVP ने 4 में से 3 सीटें जीत ली! 2017 और 2018 में लगभग सभी छात्रसंघ चुनावों ABVP … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – 1857 का राष्ट्रवाद, नरेंद्र मोदी और 2019

Death Anniversary of two Maulvis and Shaheed Mangal Pandey: The Untold Story

5th June 2018 marks the 194th death anniversary of SHAH ABDUL AZIZ DEHALVI and the 160th martyrdom day of MAULAVI AHMADULLAH SHAH. Both these individuals are connected intimately with MANGAL PANDEY the first hero of 1857, the first Indian War of Independence. On 30th June 2018, 1857 NATIONALIST FORUM is going to establish the statue of MANGAL PANDEY in front of UP Vidhan Sabha. MARATHAS … पढ़ना जारी रखें Death Anniversary of two Maulvis and Shaheed Mangal Pandey: The Untold Story

सीमेंट मज़दूरों के खून से डालमिया ग्रुप के हाथ रंगे हुए हैं – अमरेश मिश्र

लालकिला जबसे डालमिया ग्रुप को ठेके पर दिया गया है, तब से ही इसे ठेके पर देने का विरोध तरह तरह से हो रहा है. आर कोई मोदी सरकार के इस फ़ैसले की आलोचना कर रहा है. इसी कड़ी में ताज़ा नाम जुड़ा है, लेखक और इतिहासकार अमरेश मिश्र का. अमरेश मिश्र ने 1991 के एक गोलीकांड का ज़िक्र किया है. जिसमें सीमेंट मजदूरों पर … पढ़ना जारी रखें सीमेंट मज़दूरों के खून से डालमिया ग्रुप के हाथ रंगे हुए हैं – अमरेश मिश्र

दैनिक जागरण की फेक न्यूज़ का पर्दाफाश करता अमरेश मिश्र का ये लेख

जो चुप रहेगा ज़बाने खंजर, लहू पुकारेगा आस्तीन का दैनिक जागरण कुछ भी कहे, यह बात प्रमाणित हो चुकी है की कठुआ काण्ड मे आसिफा का बलात्कार और उसकी हत्या को मन्दिर-प्रांगण या देवीस्थान के अन्दर अंजाम दिया गया। इसकी पुष्टी भाजपा सरकार के अफसरों ने खुद की। कठुआ मन्दिर से मिले ब्लड और DNA samples का इस काण्ड मे शामिल मुख्य अभियुक्तों के ब्लड … पढ़ना जारी रखें दैनिक जागरण की फेक न्यूज़ का पर्दाफाश करता अमरेश मिश्र का ये लेख

Is RSS taught Rape as part of policy to boys in this army?

I told you not to forget Kathua style rape/killing of 11 year year old girl in Surat. Yesterday, 8 year old girl was raped and strangled in Etah, UP. Today, two teen sisters (17 &13) strangled and killed in Etawah, UP. Villagers suspect rape. Police hesitant to confirm. Intel reports say that the PRIVATE ARMY formed by RSS in 2015 in the Jammu-Himachal-Chandigarh-Delhi-Rajasthan-Haryana-Western UP stretch, … पढ़ना जारी रखें Is RSS taught Rape as part of policy to boys in this army?

25 Surprising points on why BJP Lost Phoolpur and Gorakhpur

Gorakhpur and Phoolpur results have not only shocked BJP-RSS-Modi-Shah-Yogi clique. They have exposed the FASCIST-HINDUTVA GAMEPLAN and the way it can be defeated. Consider the following points Modi’s political efforts were aimed at building a new voting bloc of an Anti-Muslim, ‘Hindu poor’ in the Hindi Heartland. This was the main Reason Behind  Demonetisation. If you analyse, What has been Modi’s Contribution, his usp, his … पढ़ना जारी रखें 25 Surprising points on why BJP Lost Phoolpur and Gorakhpur

तिरंगा यात्रा में मुस्लिम-विरोधी नारे और भगवा झंडे क्यों ?

यूपी के कासगंज में तिरंगा यात्रा के बाद हुई एक मौत के बवाल मचा हुआ है, सोशलमीडिया में एक समुदाय विशेष को टारगेट करके मैसेज चलाये जा रहे हैं. कि  फलां समुदाय के लोगों ने तिरंगा यात्रा पर हमला कर दिया. पर वास्तविकता सोशल मीडिया में चल रहे मैसेजेज़ से बिलकुल अलग है. इस घटना पर इतिहासकार अमरेश मिश्रा ने अपनी फेसबुक वाल पर एक … पढ़ना जारी रखें तिरंगा यात्रा में मुस्लिम-विरोधी नारे और भगवा झंडे क्यों ?

Prediction of Gujarat with Amaresh Mishra’s eyes

The future of Indian democracy, even civilization, in a way, now depends on how Central and North Gujarat votes on 14th December. Modi’s desperate pleas, it seems have fallen on deaf ears. Out of 40 seats in Central Gujarat, where Godhara is located, BJP got 21, and Congress as high as 17 in 2012! So, Congress is on a strong wicket here. But Central Gujarat … पढ़ना जारी रखें Prediction of Gujarat with Amaresh Mishra’s eyes