नज़रिया – बदले बदले से मोहन भागवत, आखिर माजरा क्या है ?

संघ प्रमुख मोहन भागवत का भाषण चर्चा का विषय बना हुआ है। लोग उनके भाषण के निहितार्थ निकालने में लगे हैं। जिनका संघ के बारे में अध्ययन नहीं है, वे इसे संघ में बदलाव की संज्ञा दे रहे हैं। लेकिन न संघ बदला है, न ही कभी बदलेगा। दरअसल मोहन भागवत के भाषण को उसके पुराने आचरण से ही समझना होगा। इतिहास गवाह है कि … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – बदले बदले से मोहन भागवत, आखिर माजरा क्या है ?

आखिर संघ परिवार में चल क्या रहा है ?

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के कथनों का क्या मतलब है, यह मुझे नहीं मालूम। बहुत लोगों को मालूम नहीं होगा। खुद संघियों को भी नहीं मालूम होगा कि भागवत की बातों का मतलब क्या है? क्या वह सरकार से नाराजगी जाहिर कर रहे हैं? क्या वह कांग्रेस पर डोरे डाल रहे हैं? क्या मुसलमानों को रिझाने की कोशिश कर रहे हैं? संघ बदल रहा है, … पढ़ना जारी रखें आखिर संघ परिवार में चल क्या रहा है ?

हेडगेवार को प्रणब मुखर्जी ने कहा “भारत माता का महान सपूत”

प्रणब मुखर्जी गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुख्यालय पहुंचे. मुख्यालय में अपना बहुप्रतीक्षित भाषण देने से पहले प्रणब आरएसएस के संस्थापक डॉ. केबी हेडगेवार की जन्मस्थली पर गए और उन्हें श्रद्दांजलि अर्पित की. प्रणब मुखर्जी ने विजिटर बुक में हेडगेवार के बारे में अपने विचार भी जाहिर किए. पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेसी नेता रहे प्रणब मुखर्जी ने विजिटर बुक में लिखा, ‘आज मैं यहां … पढ़ना जारी रखें हेडगेवार को प्रणब मुखर्जी ने कहा “भारत माता का महान सपूत”

मीडिया और पत्रकारों को साध रहा संघ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने करीब सालभर से छवि सुधारने की मुहिम छेड़ रखी है। इस दौरान 10 हजार पत्रकारों सहित 40 हजार प्रोफेशनल्स से संपर्क किया गया। संघ से रूबरू करवाने के लिए सात प्रांतों में 540 पत्रकारों के साथ बैठकें की गईं। वहीं, संघ के बारे में पॉजीटिव रिपोर्ट छापने वाले 1300 पत्रकारों को सम्मानित भी किया। यह खुलासा संघ की अंदरूनी रिपोर्ट में … पढ़ना जारी रखें मीडिया और पत्रकारों को साध रहा संघ

क्या है संघ का सोशलमीडिया विरोधी विचार

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ(आरएसएस) का अब तक का सबसे विशाल समागम ‘राष्ट्रोदय’ रविवार को मेरठ में हुआ तीन लाख से अधिक स्वयंसेवक इस समागम का हिस्सा बने। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने अपने पिछले भाषणों व बयानों की तरह ही यहाँ ही कट्टर हिन्दू होने की परिभाषा समझाने की कोशिश की। 35 फ़ीट ऊंचे मंच से संबोधन में भागवत ने कहा कि पंथ कोई भी … पढ़ना जारी रखें क्या है संघ का सोशलमीडिया विरोधी विचार

क्या सेना से माफ़ी मांगेंगे भागवत और संघ ?

जम्मू के आर्मी कैंप में हुए आतंकवादी हमले पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने एक बड़ा और बेतुका बयान दिया है. अपने इस बयान में भागवत ने कहा है कि उनके पास भले ही मिलिट्री संगठन ना हो लेकिन अगर देश को कभी जरूरत पड़ी तो उनके स्वंयसेवक सेना से पहले ही 3 दिन में तैयार हो जाएंगे. क्या कहा भागवत ने? बिहार के मुजफ्फरनगर … पढ़ना जारी रखें क्या सेना से माफ़ी मांगेंगे भागवत और संघ ?