बधाई हो मित्रों – मोदी जी के नेतृत्व में हम अमेरिका के अघोषित पिछलग्गू बनने वाले हैं.

बधाई हो मित्रों – अब हम अमेरिका के घोषित पिछलग्गू, नाटो सदस्य बनने से बस एक कदम दूर रह गए हैं- बाकी असल में बन ही गए हैं! क्या है कि देश नहीं झुकने देंगे जुमला सरकार ने अमेरिका से कोमकासा (कम्युनिकेशन कम्पेटिबिलिटी एंड सिक्योरिटी एग्रीमेंट) कर ही डाला।  यह अमेरिका की उन चार संधियों में से है जो वह अपने सहयोगियों (ध्यान दें- मितरों- … पढ़ना जारी रखें बधाई हो मित्रों – मोदी जी के नेतृत्व में हम अमेरिका के अघोषित पिछलग्गू बनने वाले हैं.

इन्होंने अमेरिकी लोकतंत्र को आतंक का सबसे बड़ा अड्डा कहा था

आख़िर क्यों ‘मैल्कम एक्स’ जैसे लोग इस नई प्रोग्रेसिव पीढ़ी के रोल मॉडल नहीं हैं? चे-ग्वेरा से लेकर मार्टिन लूथर किंग, माओ, नेल्सन मंडेला, फ़िदेल कास्त्रो, महात्मा गांधी का फ़ोटो आपको हर जगह मिल जाएगा पर मैल्कम एक्स और मोहम्मद अली जैसे लोगों के नाम तक पे चर्चा नहीं होती है। आख़िर क्यों? जबकि अगर संघर्षों की बात की जाए तो मैल्कम एक्स के सामने … पढ़ना जारी रखें इन्होंने अमेरिकी लोकतंत्र को आतंक का सबसे बड़ा अड्डा कहा था

किम जोंग से क्यों मिलना चाहती हैं वैश्विक शक्तियां?

वर्षों तक बाहरी दुनिया से कटे रहे किम जोंग-उन, अब एक शक्तिशाली खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं. चीन, रूस, सीरिया, दक्षिण कोरिया और अमरीका के नेताओं की किम जोंग-उन से इस साल मुलाक़ातें तय हो चुकी हैं. कई बड़े नेता उनसे वाक़ई मुलाक़ात करना चाहते हैं. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने किम जोंग-उन को सितंबर में व्लादिवोस्टॉक (चीन की सीमा से सटा एक … पढ़ना जारी रखें किम जोंग से क्यों मिलना चाहती हैं वैश्विक शक्तियां?

जॉर्ज वाशिंगटन को कितना जानते हैं आप?

30 अप्रैल सन 1789 का दिन अमेरिका के इतिहास के लिये काफी महत्व रखता है. इसी दिन जॉर्ज वॉशिंगटन सर्वसम्मति से अमेरिका के पहले राष्ट्रपति चुने गए थे. वे इस पद पर 4 अप्रैल 1797 तक रहे. अमेरिका के सबसे प्रभावशाली एवं पहले राष्ट्रपति जार्ज वाशिंगटन प्रथम का जन्म 22 फरवरी 1932 में वर्जीनिया के वेस्ट मोरलैंड कांउटी में हुआ था. वाशिंगटन को देश के … पढ़ना जारी रखें जॉर्ज वाशिंगटन को कितना जानते हैं आप?

केमिकल अटैक के बाद असद की सेनाओं के विरुद्ध US, फ्रांस और ब्रिटेन ने छेड़ा युद्ध

सीरिया का गृहयुद्ध अब बड़े युद्ध की तरफ़ बढ़ रहा है, लोग इसे तृतीय विश्वयुद्ध की शुरूआत भी कह रहे हैं. दरअसल अमेरिका,फ्रांस और ब्रिटेन की सेनाओं ने सीरिया पर हमला बोल दिया है. वहीं सीरियाई सेनाओं की ओर से लड़ रहे रूस ने इसे अपना अपमान बताया है. रूस ने तीनों देशों की कार्रवाई पर चेतावनी देते हुए कहा कि इसका नतीजा युद्ध हो … पढ़ना जारी रखें केमिकल अटैक के बाद असद की सेनाओं के विरुद्ध US, फ्रांस और ब्रिटेन ने छेड़ा युद्ध

पत्नी ने पति पर टायलेट में कर दी फायरिंग, वजह है बड़ी अजीब

अमेरिका के एरीजोना प्रांत के गुडइयर कस्बे में एक ऐसा हादसा देखने को मिला जिसकी भारत जैसे देश में कल्पना तक नहीं की जा सकती है.   एरीजोना में पति- पत्नी के झगड़े का एक हैरान कर देने वाला सामने आया है, जहां पर नाराज पत्नी ने टॉयलेट में बैठे पति पर फायरिंग कर दी.  परन्तु, गोली शख्स को छुते हुए निकल गई. बड़ी मुश्किल … पढ़ना जारी रखें पत्नी ने पति पर टायलेट में कर दी फायरिंग, वजह है बड़ी अजीब

‘Bomb है’ समझकर हुआ गिरफ्तार यह भारतीय

फ्लाइट का स्टेटस जानना और जल्दी फ़ोन काटना  कितना महंगा पड़ सकता है और नोबत तो जेल तक की आ सकती है. ये तो विनोद मूरजानी ही बता सकते हैं ऐसा ही एक घटना देखने को मिली है. मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर फ्लाइट का स्टेटस पूछना  विनोद मूरजानी को भारी पड़ गया.   दरअसल, विनोद मूरजानी ने हवाईअड्डे पर फोन करके ‘BOM-DEL’ फ्लाइट का स्टेटस जानना … पढ़ना जारी रखें ‘Bomb है’ समझकर हुआ गिरफ्तार यह भारतीय

मेरी मेज़ में भी है न्यूक्लियर बटन – ट्रंप

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तरकोरिया के शासक किम जोंग उन को जवाब देते हुए कहा है, कि मेरे पास भी परमाणु बम का बटन रहता है. जोकि काफ़ी बड़ा बम है.ज्ञात होकी कि पिछले कई दिनों से अमरीका और उत्तरकोरिया के मध्य तनातनी चल रही है. हो सकता है, कि यह तनातनी किसी भयावह घटना को जन्म दे. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने ट्विटर … पढ़ना जारी रखें मेरी मेज़ में भी है न्यूक्लियर बटन – ट्रंप

शाहरुख़ ने साधा ट्रंप पर निशाना – कहा , यह दुखद है कि ‘माई नेम इज खान’ अब भी प्रासंगिक है

बोलिबुड के बादशाह शाहरुख खान की सुपरहिट फिल्म ‘माई नेम इज खान’ की रिलीज के सात साल पूरे हो गए हैं, वर्ष 2010 में आई इस फिल्म में शाहरुख़ ने रिजवान खान नामक एक शख्स की कहानी कहती को जिया है, जो अपने बेटे की हत्या के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति से मिलने के लिए यात्रा पर निकलता है और अपने धर्म के बारे में लोगों … पढ़ना जारी रखें शाहरुख़ ने साधा ट्रंप पर निशाना – कहा , यह दुखद है कि ‘माई नेम इज खान’ अब भी प्रासंगिक है