मोदी और जूदेव के बिड़ला-गांधी, साक्षी बने अमर सिंह से लेकर मेहुल भाई

“वरना कुछ लोगों का आपने देखा होगा, उनकी एक फोटू आप नहीं निकाल सकते हैं किसी उद्योगपति के साथ लेकिन एक देश का उद्योगपति ऐसा नहीं है जिन्होंने उनके घरों में जाकर षाष्टांग दंडवत न किए हों, ये अमर सिंह यहां बैठे हैं, सारा हिस्ट्री निकाल देंगे। लेकिन जब नीयत साफ हो, इरादे नेक हों तो किसी के साथ भी खड़े होने से दाग नहीं … पढ़ना जारी रखें मोदी और जूदेव के बिड़ला-गांधी, साक्षी बने अमर सिंह से लेकर मेहुल भाई

रेलमंत्री जी,ये कैसी ऑनलाइन परीक्षा है कि आरा से हैदराबाद जाना पड़े

9 अगस्त से रेलवे की परीक्षा शुरू हो रही है। अस्सिटेंट लोको पायलट और टेक्निशियन के 26,502 पदों के लिए परीक्षा हो रही है जिसमें 47 लाख से अधिक छात्र भाग लेंगे। रेल मंत्रालय की तरफ से दावा किया गया है कि रेलवे दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन परीक्षा कराने जा रहा है क्योंकि इस परीक्षा में करीब एक लाख पदों के लिए दो करोड़ … पढ़ना जारी रखें रेलमंत्री जी,ये कैसी ऑनलाइन परीक्षा है कि आरा से हैदराबाद जाना पड़े

प्रधानमंत्री जी आप भारत को विश्व गुरु बना रहे हैं या बेवकूफ बना रहे हैं?

स्वीस नेशनल बैंक ने अपनी सालाना रिपोर्ट में बताया है कि 2017 में उसके यहां जमा भारतीयों का पैसा 50 प्रतिशत बढ़ गया है। नोटबंदी के एक साल बाद यह कमाल हुआ है। ज़रूरी नहीं कि स्विस बैंक में रखा हर पैसा काला ही हो लेकिन काला धन नहीं होगा, यह क्लिन चिट तो मोदी सरकार ही दे सकती है। मोदी सरकार को यह समझदारी … पढ़ना जारी रखें प्रधानमंत्री जी आप भारत को विश्व गुरु बना रहे हैं या बेवकूफ बना रहे हैं?

नोटबंदी से जो आतंकवाद ख़त्म हो गया था, उसी के कारण गठबंधन ख़त्म हो गया – रविश कुमार

आज कश्मीर के कई बड़े अख़बारों ने पत्रकार शुजात बुख़ारी की हत्या के विरोध में अपने संपादकीय कोने को ख़ाली छोड़ दिया है। ईद की दो दिनों की छुट्टियों के बाद जब आज अख़बार छप कर आए तो संपादकीय हिस्सा ख़ाली था। ग्रेट कश्मीर, कश्मीर रीडर, कश्मीर आब्ज़र्वर, राइज़िंग कश्मीर के अलावा उर्दू अखबार डेली तमलील इरशाद ने भी संपादकीय ख़ाली छोड़ दिया। धारा 370 … पढ़ना जारी रखें नोटबंदी से जो आतंकवाद ख़त्म हो गया था, उसी के कारण गठबंधन ख़त्म हो गया – रविश कुमार

इसी तरह मीडिया को ध्वस्त होने देंगे तो फिर आपके लिए क्या बचेगा – रविश कुमार

बीजेपी के नेता पत्रकारों ( एंकरों) के घर भी जा रहे हैं। पैम्फलेट देते हैं और फ़ोटो खींचाते हैं। पत्रकारों के अलावा कुछ मशहूर हस्तियों के घर जा रहे हैं जैसे पूर्व सेनाध्यक्ष, डॉक्टर, प्रोफ़ेसर। वैसे इन एंकरों को प्रेस कांफ्रेंस में पैम्फलेट मिला ही होगा। नहीं मालूम कि इन्होंने या किसी गणमान्य ने अपने सवाल पूछे या नहीं। पूछने की हिम्मत भी हुई या … पढ़ना जारी रखें इसी तरह मीडिया को ध्वस्त होने देंगे तो फिर आपके लिए क्या बचेगा – रविश कुमार

मोदी सरकार के चार साल, झूठ और धर्मांधता के साल

मोदी सरकार के चार साल पूरे होने के दिन भी पेट्रोल और डीज़ल के दाम बढ़े हैं। 13 मई से 26 मई के बीच पेट्रोल के दाम में 3.86 रुपये और डीज़ल के दाम में 3.26 रुपये की वृद्धि हो गई है। कर्नाटक चुनाव ख़त्म होते ही अख़बारों ने लिख दिया था कि चार रुपये प्रति लीटर दाम बढ़ेंगे, करीब करीब यही हुआ है। यानी … पढ़ना जारी रखें मोदी सरकार के चार साल, झूठ और धर्मांधता के साल

संविधान की झूठी व्याख्याओं के दंभ की हार हुई है

येदियुरप्पा ने किसानों की जितनी बात की है उतनी तो चार साल में देश के कृषि मंत्री ने नहीं की होगी। उन्हें ही कृषि मंत्री बना देना चाहिए और न्यूज एंकरों को बीजेपी का महासचिव। एक एंकर बोल रहा था कि येदियुरप्पा इस्तीफा देंगे। नेरेंद्र मोदी कभी इस तरह की राजनीति को मंज़ूरी नहीं देते। सुनकर लगा कि अमित शाह राहुल गांधी से पूछकर ये … पढ़ना जारी रखें संविधान की झूठी व्याख्याओं के दंभ की हार हुई है

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट वही कहेगा जो 2005 में झारखंड मामले में कह चुका है?

कर्नाटक राज्यपाल के फैसले और वहां सरकार बनाने की दावेदारी के संदर्भ में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में महत्वपूर्ण सुनवाई होनी है। इसके पहले आपको 2005 में झारखंड मामले में सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच के फैसले और बहस के दौरान मुकुल रोहतगी और अभिषेक मनु सिंघवी की दलील को पढ़ लीजिए, आप तीन दिनों तक बिस्तर से नहीं उठेंगे कि नेता और … पढ़ना जारी रखें कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट वही कहेगा जो 2005 में झारखंड मामले में कह चुका है?

क्या प्रधानमंत्री मोदी रेड्डी बंधुओं पर बिना पेपर के 5 मिनट बोल सकते हैं?

बेल्लारी के रेड्डी बंधुओं के कारण राज्य को कितने राजस्व का नुकसान हुआ, इसके तीन आंकड़े हैं। संतोष हेगड़े की रिपोर्ट के अनुसार 12,000 करोड़ का नुकसान हुआ। सिद्धारमैया सरकार की एच के पाटिल कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार 1 लाख करोड़ के राजस्व का नुकसान हुआ। ये कर्नाटक के एक साल के बजट के बराबर है। 2 जी केस की तरह यह सब अनुमान … पढ़ना जारी रखें क्या प्रधानमंत्री मोदी रेड्डी बंधुओं पर बिना पेपर के 5 मिनट बोल सकते हैं?

रविश की कलम से- ओ जाने वाले हो सके तो भारत लौट के आना.

मुंबई के मशहूर बिल्डर हीरानंदानी ग्रुप के संस्थापक सुरेंद्र हीरानंदानी ने भारत की नागरिकता छोड़ दी है। अब वे साइप्रस के नागरिक हो गए हैं। साइप्रस की ख़्याति टैक्स हावेन्स के रूप में है, मतलब जहां कर चुकाने का झंझट कम है। हीरानंदानी ने कहा है कि इस कारण से उन्होंने नागरिकता नहीं छोड़ी है। भारतीय पासपोर्ट पर वर्क वीज़ा लेना मुश्किल हो जाता है … पढ़ना जारी रखें रविश की कलम से- ओ जाने वाले हो सके तो भारत लौट के आना.

जानवर बन जाने के बाद आपका बोलना भी बेकार है

आप अंग्रेज़ी में छपने वाली OPEN पत्रिका में राहुल पंडिता और ndtv.com पर नज़ीर मसूदी का लेख पढ़िएगा। मैं आपकी चुप्पी को समझता हूं, जानवर बन जाने के बाद आपका बोलना भी बेकार है। इससे पहले कि आप अक्षरों को भी हिन्दू मुसलमान की तरह पहचानने लगे, क्या उम्मीद की जा सकती है कि नीचे लिखे गए विवरण को आप पढ़ेंगे? कोशिश कीजिए। मैंने राहुल … पढ़ना जारी रखें जानवर बन जाने के बाद आपका बोलना भी बेकार है

कोई पैसा लेकर भाग जा रहा है, कोई पैसा लेकर बैठ जा रहा है

सरकार कितना काम कर रही है उसका एक नमूना देखिए। फाइनेंशियल एक्सप्रेस की ख़बर है कि लघु सिंचाई योजना के लिए 5000 करोड़ का फंड 14 महीने से मंत्रालय में ही पड़ा हुआ है। वित्त मंत्रालय ने 23 फरवरी 2018 को ही मंज़ूरी दे दी थी मगर कृषि मंत्रालय इस पैसे को पास कराने के लिए कैबिनेट के पास प्रस्ताव ही लेकर नहीं गया। इन … पढ़ना जारी रखें कोई पैसा लेकर भाग जा रहा है, कोई पैसा लेकर बैठ जा रहा है

रेलवे में सभी ख़ाली पद नहीं भरे जाएंगे, नौजवान उल्लू बनाए जाते रहेंगे

रेलवे पर संसद की स्थाई समिति को रेल मंत्रालय ने कहा है कि उसका इरादा सभी ख़ाली पदों को भरने का नहीं है। वह अपने मुख्य कार्य के लिए पदों को भरेगी मगर बाकी काम के लिए आउटसोर्सिग जैसा विकल्प देख रही है। यानी बहुत सारे पद ठेके पर दिए जाने हैं जिनका कुछ अता पता नहीं होता है। आप भी स्थाई समिति की रिपोर्ट … पढ़ना जारी रखें रेलवे में सभी ख़ाली पद नहीं भरे जाएंगे, नौजवान उल्लू बनाए जाते रहेंगे

राम से क्या काम, छलकाईये जाम, भाजपा में नरेश आये हैं

“व्हिस्की में विष्णु बसे, रम में श्री राम, जिन में माता जानकी, ठर्रे में हनुमान।” उपरोक्त बयान संत तुलसीदास के नहीं बल्कि संत नरेश अग्रवाल के हैं, जो समाजवादी पार्टी से निकल कर भाजपा में आ चुके हैं। जुलाई 2017 में जब राज्य सभा में उन्होंने अमृत वचन कहे थे तब भाजपा के नेता पर आक्रोशित हुए थे। चैनलों पर हिन्दू मुस्लिम डिबेट की महफिल … पढ़ना जारी रखें राम से क्या काम, छलकाईये जाम, भाजपा में नरेश आये हैं

आप कौन सा भारत चाहते हैं, बुज़दिल या बहादुर ?

तीन चार दिन पहले की बात है। एक बैंक का सीनियर अफसर बाज़ार से चूड़ियां ख़रीद लाया अपने नीचे के अफसर को पहनाने के लिए। जुर्म क्या था? अटल पेंशन योजना बेचने का जो दैनिक टारगेट दिया गया था, उसे पूरा नहीं कर पाया था। पूरे बैंक में खड़े उस बैंक कर्मचारी की हालत सोचिए। जो मैनेजर चूड़ियां ख़रीद लाया था उस नालायक के बारे … पढ़ना जारी रखें आप कौन सा भारत चाहते हैं, बुज़दिल या बहादुर ?

शराबबंदी नहीं ग़रीबबंदी हो रही है बिहार में

पिछले साल जुलाई में दिहाड़ी मज़दूरी करने वाले मस्तान मांझी और पेंटर मांझी को शराब पीने के जुर्म में पांच साल और एक एक लाख का जुर्माना हुआ तब किसी की नज़र नहीं पड़ी। ग़रीब मारा जाता है तो वैसे भी कम सहानुभूति होती है। एक दिहाड़ी मज़दूर के लिए क्या इतनी सख़्त सज़ा की ज़रूरत थी? शराब की हिमायत नहीं कर रहा मगर जिस … पढ़ना जारी रखें शराबबंदी नहीं ग़रीबबंदी हो रही है बिहार में

भयंकर मानसिक तनाव से गुज़र रहे हैं, बैंक कर्मचारी

बैंक कर्मचारियों के सैंकड़ों मेसेज पढ़ गया। उनकी व्यथा तो वाक़ई भयानक है। क्या किसी को डर नहीं है कि दस लाख लोगों का यह जत्था उसे कितना राजनीतिक नुकसान पहुंचा सकता है? कई दिनों से हज़ारों मेसेज पढ़ते हुए यही लगा कि बैंक के कर्मचारी और अधिकारी भयंकर मानसिक तनाव से गुज़र रहे हैं। उनके भीतर घुटन सीमा पार कर गई है। आज जब … पढ़ना जारी रखें भयंकर मानसिक तनाव से गुज़र रहे हैं, बैंक कर्मचारी

नीरव मोदी को नहीं है, जांच एजेंसियों का डर

नीरव मोदी भले ही नरेंद्र मोदी न हो मगर नरेंद्र मोदी की जांच एजेंसियों से नहीं डरता है। पत्र लिखता है। हे भारतत्यागी नीरव मोदी, प्रेरक पत्र के लिए शुक्रिया। आज जांच एजेंसियों में समोसे बंटेंगे कि जिस नीरव मोदी तक वे नहीं पहुंच सके, उस नीरव मोदी का पत्र जन-जन तक पहुंच गया। आपने वाकई इन जांच एजेंसियों का ब्रांड ऊंचा कर दिया है। … पढ़ना जारी रखें नीरव मोदी को नहीं है, जांच एजेंसियों का डर

नीरव ने पीएनबी का कारवां कैसे लूटा

नीरव मोदी का घोटाला 17000 करोड़ से ज़्यादा पहुंच सकता है। रायटर ने इस बारे में रिपोर्ट लिखी है जिसे स्क्रोल ने छापा है। कहां तो सरकार को इस घोटाले से संबंधित सारे तथ्य सामने रखने चाहिए मगर उसकी तरफ से मंत्रियों का बेड़ा इसलिए भेजा जा रहा है ताकि वे लीपापोती कर सकें या फिर इधर-उधर का बात कर कारवां के लुटेरे से ध्यान … पढ़ना जारी रखें नीरव ने पीएनबी का कारवां कैसे लूटा

ईज़ ऑफ लीविंग एक फ़र्ज़ी नारा है

भारत ने ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस में 130 पायदान से 100 वें पायदान पर जो छलांग लगाई है, उसे लेकर सवाल उठ रहे हैं। मैंने पहले भी इस पर फेसबुक पेज पर लिखा था। 12 जनवरी को विश्व बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री पॉल रोमर ने कहा कि उनका रैकिंग से यक़ीन उठ गया है। यह कहने के बाद रोमर ने इस्तीफा दे दिया। रोमर का … पढ़ना जारी रखें ईज़ ऑफ लीविंग एक फ़र्ज़ी नारा है