हर कश्मीरी, अलगाववादी या चरमपंथी नहीं है

“कश्मीर” – एक ऐसा नाम, जिसका नाम आते ही राष्ट्रवाद हिचकोले मारने लगता है. एक ऐसी जगह जिस पर लिखने से पहले आपको कई बार सोचना पड़ता है. वो जगह जिसके बारे में लिखने से पहले आप ये सोच लें, कि हो सकता है आपकी देशभक्ति को कटघरे में खड़ा कर दिया जायेगा. वो जगह जिसके बारे में लिखते ही आपको पाकिस्तान परस्त घोषित किया … पढ़ना जारी रखें हर कश्मीरी, अलगाववादी या चरमपंथी नहीं है

पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी चाहती है कि मोदी ही भारत के प्रधानमंत्री रहें?

21 मई 2018 को एक किताब प्रकाशित हुई थी जिसका नाम था ‘Spy Chronicles’ ये किताब पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी ISI के पूर्व डीजी असद दुर्रानी ने पूर्व रॉ चीफ ए. एस. दुलत के साथ मिलकर लिखी थी। पाकिस्तानी सेना इस किताब के प्रकाशन से तिलमिला गयी थी, उसने भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर छपी इसी किताब को लेकर असद दुर्रानी को तलब भी किया था। … पढ़ना जारी रखें पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी चाहती है कि मोदी ही भारत के प्रधानमंत्री रहें?

राजस्थान – मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने ली शपथ

जयपुर के अलबर्ट हॉल में कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने तीसरी बार राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. इसी समारोह में राज्यपाल कल्याण सिंह ने सचिन पायलट राज्य को डिप्टी सीएम के पद की शपथ दिलायी. इस दौरान मंच पर कई विपक्षी दलों के नेता मौजूद थे. बता दें कि अशोक गहलोत 1998 में पहली बार मुख्यमंत्री बने और 2008 में दूसरी … पढ़ना जारी रखें राजस्थान – मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने ली शपथ

1984 सिख विरोधी दंगों के एक मामले में सज्जन कुमार को उम्रक़ैद

दिल्ली हाईकोर्ट की डबल बेंच ने बड़ा फैसला देते हुए 1984 के सिख विरोधी दंगों में दिल्ली कैंट के मामले में निचली अदालत का फैसला पलट दिया है. कोर्ट ने कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को दोषी करार दिया है. सिख विरोधी दंगों में संलिप्तता के मामले में सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा और पांच लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है. ज्ञात होकि पूर्व … पढ़ना जारी रखें 1984 सिख विरोधी दंगों के एक मामले में सज्जन कुमार को उम्रक़ैद

मोदी सरकार के झूठ की पराकाष्ठा है, कोर्ट में दायर हलफनामा

सुप्रीम कोर्ट हो या कोई भी कोर्ट, हलफनामा हो या कोई भी कागज, यह सरकार का कोई मंत्री नहीं देखता है। यह उस विभाग का सचिव अगर मामला बहुत महत्वपूर्ण रहा तो वह देखता है या संयुक्त सचिव। हलफनामे में क्या जाएगा, क्या भाषा होगी, सरकार के पक्ष के अनुसार उसे ड्राफ्ट किया जाता है फिर दस्तावेजों के आलोक मे उसे निखारा जाता है, यह … पढ़ना जारी रखें मोदी सरकार के झूठ की पराकाष्ठा है, कोर्ट में दायर हलफनामा

एम्स का ये डॉक्टर कैसे बना आदिवासियों का हीरो ?

“हीरा अलावा”, विधानसभा चुनावों के मौसम में पिछले 6 माह से यह नाम मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़ क्षेत्र की राजनीति में चर्चा का केंद्र बना हुआ है। डॉ अलावा हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में मध्यप्रदेश की मनावर विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर लड़े जहां उन्होंने प्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री और भाजपा प्रत्याशी रंजना बघेल को करीब 40000 मतों के बड़े अंतर से … पढ़ना जारी रखें एम्स का ये डॉक्टर कैसे बना आदिवासियों का हीरो ?

राफ़ेल पर मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से बोला ये झूठ

14 दिसंबर 2018 की सुबह राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट का बहुप्रतीक्षित फैसला आ गया शाम तक यह भी साफ हो गया कि यह फैसला किस आधार पर लिया गया,………फैसले में कहा गया कि राफेल की कीमत से जुड़ी जानकारियां भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (CAG) से साझा की गई थीं, जिसने बाद में लोक लेखा समिति (PAC) को अपनी रिपोर्ट सौंपी ओर उसी को … पढ़ना जारी रखें राफ़ेल पर मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से बोला ये झूठ

भाजपा के इस दिग्गज नेता ने अपने ट्वीट में लांघी मर्यादा

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय हर बार की तरह एक बार फिर से सोशल मीडिया पर अपने विवादित ट्वीट के लिए चर्चा में है. इस ब़ार कैलाश विजयवर्गीय सारी मर्यादाओं को  लांघकर ऐसे शब्दों का उपयोग कर बैठे, जिसके बाद लोग उनके ट्वीट को महिला सम्मान से जोड़कर देख रहे हैं. अक्सर अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले भाजपा नेता … पढ़ना जारी रखें भाजपा के इस दिग्गज नेता ने अपने ट्वीट में लांघी मर्यादा

तेलंगाना में केसीआर और ओवैसी ने कैसे जीती बाज़ी?

देश के 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव का शोर आख़िर थम गया जिसमें से 3 राज्य ( राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ ) में कांग्रेस की वापसी हुई और भाजपा की हार हुई है। इन तीनों राज्यों में कांग्रेस सरकार बना लेगी और दो राज्य मिज़ोरम में मिज़ोरम नेशनल फ्रंट व तेलंगाना में तेलंगाना राष्ट्र समिति ने दो तिहाई बहुमत हासिल किया। मैं यहां बात करूंगा … पढ़ना जारी रखें तेलंगाना में केसीआर और ओवैसी ने कैसे जीती बाज़ी?

सरकार से जवाबतलबी जारी रहनी चाहिये

किसान कर्जमाफी और रोज़गार की मांग अगर चिढ़ाने के लिए भी की जा रही हो तो भी इसका स्वागत किया जाना चाहिये। जब से पांच राज्यों में विधानसभा के चुनाव सम्पन्न हुये हैं और भाजपा की पराजय हुयी है तब से सोशल मीडिया में एक परिवर्तन देखने को मिल रहा है। हिंदुत्व खतरे में हैं, और मंदिर वही बनाएंगे, पाकिस्तान चले जाओ आदि आदि उत्तेजनात्मक बातें … पढ़ना जारी रखें सरकार से जवाबतलबी जारी रहनी चाहिये

व्यक्तित्व – नफ़रत के खिलाफ़ हर आंदोलन का हिस्सा होते हैं “नदीम खान”

व्यक्तित्व में हम आज बात करेंगे नदीम खान की, देश की राजधानी दिल्ली में रहने वाले नदीम अपने सोशल वर्क और ज़मीनी सक्रियता से पिछले कुछ समय से सोशल एक्टिविज़्म का जाना माना चेहरा बन चुके हैं. मानव अधिकार से संबंधित कोई ऐसा मुद्दा नहीं मिलेगा जहाँ नदीम खान की मौजूदगी न हो. यूनाईटेड अगेंस्ट हेट नामक कैम्पेन को सफलता के साथ सुचारू रूप से … पढ़ना जारी रखें व्यक्तित्व – नफ़रत के खिलाफ़ हर आंदोलन का हिस्सा होते हैं “नदीम खान”

मध्यप्रदेश के नाथ बने “कमलनाथ”

ये तय हो गया है कि, कमलनाथ मध्य प्रदेश के 18वे मुख्यमंत्री होंगे. भोपाल में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में कमलनाथ को विधायक दल का नेता चुना गया. इससे पूर्व गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के घर में हुई बैठक हुई, जहां कमलनाथ के नाम पर मुहर लगा दी गई. अपने स्कूल की पढ़ाई के से से संजय गांधी के दोस्त रहे … पढ़ना जारी रखें मध्यप्रदेश के नाथ बने “कमलनाथ”

BJP got “Triple Talaq” in elections: Salman Nizami

NEWDELHI DEC 13: Senior Congress leader Salman Nizami who actively campaigned in the recent assembly elections said “BJP has got “Triple” Talaq in the Polls. Nizami tweeted mocking BJP, said the recent victory in 3 states by Congeess and 2 by others is a good news as BJP now got triple Talaq’s. This is not just victory in mere elections. This is young India’s endorsement of … पढ़ना जारी रखें BJP got “Triple Talaq” in elections: Salman Nizami

निर्दलीय लड़कर जीत हासिल की, शिवराज के साले रहे चौथे नंबर पर

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह मसानी चर्चा का विषय रहे. संजय सिंह मसानी ने कांग्रेस जॉइन करते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के शासन के खात्मे की बात कही थी. संजय मसानी को कांग्रेस ने बालाघाट ज़िले की वारासिवनी सीट से उम्मीदवार बनाकर मैदान में उतारा था. पर संजय चौथे स्थान पर रहे. वारासिवनी से जीत दर्ज करने … पढ़ना जारी रखें निर्दलीय लड़कर जीत हासिल की, शिवराज के साले रहे चौथे नंबर पर

एमपी चुनाव 2018 – शिवराज के ये 11 मंत्री हार गए चुनाव

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में शिवराजसरकार 11 मंत्री अपनी सीट भी नहीं बचा पाए. कांग्रेस को 230 सीटों में से 114 पर जीत हासिल हुई है, वहीं भाजपा के खाते में 109 सीटें आई हैं. इसके अलावा बसपा ने दो, सपा ने एक और अन्य ने चार सीटों पर कब्जा किया है. ज्ञात होकि कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से सिर्फ  दो सीट दूर रह गई. जानिये शिवराज सिंह … पढ़ना जारी रखें एमपी चुनाव 2018 – शिवराज के ये 11 मंत्री हार गए चुनाव

अब सैन्य अधिकारी कह रहे हैं, कि सर्जिकल स्ट्राईक का न हो राजनीतिकरण

सेना के बड़े बड़े पदों पर बैठे लोग कह रहे है कि सर्जिकल स्‍ट्राइक का राजनीतिकरण किया जा रहा है. 2016 सर्जिकल स्‍ट्राइक के समय उत्‍तरी सेना के कमांडर रहे लेफ्ट‍िनेंट जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा ने कहा कि स्‍ट्राइक का “ढिंढोरा” पीटने से मदद नहीं मिली ओर “सैन्‍य ऑपरेशंस का राजनीतिकरण” होना “ठीक नहीं”…….”चुनिंदा वीडियोज,फोटोग्राफ्स को लीक करके एक मिलिट्री ऑपरेशन को राजनीतिक चर्चा में … पढ़ना जारी रखें अब सैन्य अधिकारी कह रहे हैं, कि सर्जिकल स्ट्राईक का न हो राजनीतिकरण

नज़रिया – धर्मसंसद का अधार्मिक बयान

दिल्ली, रामलीला मैदान में आयोजित धर्म संसद ने विश्व हिन्दू परिषद का यह बयान आपत्तिजनक और आतंकवाद के वायरस से संक्रमित है। यह बयान संविधान, कानून और विधि द्वारा स्थापित न्यायपालिका को खुली चुनौती है। रैली में कहा गया है कि ” हम हथियार उठाएंगे अगर सुप्रीम कोर्ट का फैसला हमारे खिलाफ हुआ । “ यह बयान अदालत की अवमानना है या नही यह तो … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – धर्मसंसद का अधार्मिक बयान

बिहार से लेकर यूपी की परीक्षाओं को लेकर क्यों परेशान हैं छात्र

सरकारी नौकरियों की भर्ती प्रक्रिया को लेकर सरकारें अब उदासीन बने रहना छोड़ दें। नौजवान यह समझने लगा है कि भर्ती का एलान नौकरी देने के लिए कम, नौकरी के नाम पर सपने दिखाने के लिए ज़्यादा होता है। जब उस भर्ती की प्रक्रिया को पूरा होने में कई साल लग जाते हैं तब नौजवान समझ जाता है कि उसका गेम हो चुका है। ऐसा … पढ़ना जारी रखें बिहार से लेकर यूपी की परीक्षाओं को लेकर क्यों परेशान हैं छात्र

टीवी डिबेट – झगड़े का अड्डा बनते टीवी स्टूडियो

मैंने एक बार पहले मज़ाक़ मज़ाक़ में कहा था कि कुछ टीवी चैनल्स पर डिबेट का स्तर ऐसा हो जाएगा कि हो सकता है पुलिस को स्टूडियो में ही घुस परधारा 151 सीआरपीसी केअंतर्गत कार्यवाही करनी न पड़ जाय। मैंने एक पोस्ट भी इसी आशय की डाली थी।।  यह उस समय कीबात है जब टीवी पर घर वापसी और गाय के मामले पर रोज़ बहस … पढ़ना जारी रखें टीवी डिबेट – झगड़े का अड्डा बनते टीवी स्टूडियो

संघ के मंच पर कभी नहीं गए अंबेडकर

अम्बेडकर के समय में देश में कांग्रेस थी, वामपंथ था, संघ भी था। अम्बेडकर की इन तीनों से मतभेद थे। लेकिन अम्बेडकर अपनी असहमति के साथ कांग्रेस के मंच पर जाया करते थे, कम्युनिस्टों के प्रोग्राम में भी जाकर अपनी बात रखते थे। लेकिन इसका कहीं भी प्रमाण नहीं मिलेगा कि बाबा साहेब आरएसएस के किसी प्रोग्राम में भाग लिए हों। संघियों को तो देखकर … पढ़ना जारी रखें संघ के मंच पर कभी नहीं गए अंबेडकर