विशेष – सीबीआई, विजय माल्या का प्रकरण और लुक आउट नोटिस

लुकआउट नोटिस और विजय माल्या, ये दो नाम, आजकल यह नाम काफी चर्चा में है। यह भी अपराध के वैश्वीकरण के एक कारण है। अब दुनिया वैसी दुर्लंघ्य नहीं रह गयी है जैसी कभी पहले थी। अब ह्वेनसांग से लेकर इब्नबतूता से होते हुए राहुल सांकृत्यायन तक तक दुनिया की सरहदें नाप लेने वाले, अपने यात्रा वृतांतों से हम सबको चमत्कृत कर देने वाले, महान … पढ़ना जारी रखें विशेष – सीबीआई, विजय माल्या का प्रकरण और लुक आउट नोटिस

” हिंदू तालिबान ” बन चुके न्यू इण्डिया में आपका स्वागत है

देश में ख़ास तौर से उत्तर भारत के राज्य हरियाणा, उत्तरप्रदेश दिल्ली में नफ़रत का स्तर का अंदाज़ा आप इस खबर से लगा सकते हैं. क्या ये आपको वसुधैव कुटुम्बकम वाले लोग नज़र आते हैं. जिस क्षेत्र में ये सब संघी तालिबानी फरमान जारी हुआ है, उस क्षेत्र में मुस्लिम समुदाय आर्थिक और सामजिक रूप से एक कमज़ोर समुदाय है. कुछ दिन पूर्व की एक … पढ़ना जारी रखें ” हिंदू तालिबान ” बन चुके न्यू इण्डिया में आपका स्वागत है

जानवरों से भी बदतर हालत में बहन थी क़ैद

दिल्ली महिला आयोग को महिला हेल्पलाइन 181 पर सूचना मिली कि एक महिला घर में कैद है. इस पर आयोग की मोबाइल हेल्पलाइन काउंसलर तुरंत वहां भेजी गईं. जब आयोग की टीम ने घर के मालिक से गेट खोलने को कहा तो भाई की पत्नी ने मना कर दिया. उसने आयोग के लोगों को गालियां देना शुरू कर दिया. आयोग की टीम ने थाने में एसएचओ … पढ़ना जारी रखें जानवरों से भी बदतर हालत में बहन थी क़ैद

पाकिस्तान के लिए जासूसी के आरोप में BSF का जवान “अचुत्यानंद मिश्र” गिरफ़्तार

उत्तर प्रदेश एटीएस ने बीएसएफ के एक सिपाही अच्युतानंद मिश्रा को पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के इल्ज़ाम में पकड़ा है. बीएसएफ जवान अच्युतानंद मिश्रा पर विदेशी खुफिया एजेंसी को गुप्त सूचनाएं देने का आरोप है. कहा जा रहा है कि बीएसएफ जवान सोशल मीडिया पर एक महिला द्वारा हनीट्रैप का शिकार हुआ. उसके बाद वह विदेशी एजेंसियों को सेना की खुफिया जानकारी देने लगा. गिरफ्तार जवान … पढ़ना जारी रखें पाकिस्तान के लिए जासूसी के आरोप में BSF का जवान “अचुत्यानंद मिश्र” गिरफ़्तार

यह अध्यादेश असंवैधानिक है. यही नहीं संविधान के समानता के अधिकार के खिलाफ है – ओवैसी

तीन तलाक को दंडनीय अपराध बनाने संबंधी अध्यादेश को बुधवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी है. अध्याधेश को मंज़ूरी देने के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद मीडिया से मुखातिब हुए. उन्होंने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि मीडिया ने इस मामले को विस्तार से छापा है. इस दौरान कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि वोट बैंक के दबाव … पढ़ना जारी रखें यह अध्यादेश असंवैधानिक है. यही नहीं संविधान के समानता के अधिकार के खिलाफ है – ओवैसी

क्या सॉफ्ट हिंदुत्व के चक्कर में मोब लिंचिंग पर खामोश है कांग्रेस?

जब सारा देश मोबलिचिंग की आग की झुलस रहा है तो ऐसे में मध्यप्रदेश कैसे पीछे रह सकता है, मोब लिचिंग की आग यहां तक पहुंच गई अभी तक सुनते आ रहे थे की दलित-मुसलमानो का उत्पीड़न हो रहा है. आज हम भी उसके गवाह बन गए, घटना 15 तारीख की है सिरोंज से एक मुस्लिम परिवार अपनी क्वालिस गाड़ी से गंजबासौदा अपनो रिश्तेदारों से … पढ़ना जारी रखें क्या सॉफ्ट हिंदुत्व के चक्कर में मोब लिंचिंग पर खामोश है कांग्रेस?

इज़राईल विरोधी कंटेंट पर सेंसरशिप, अभिव्यक्ति की आज़ादी पर हमला

अभिव्यक्ति का खुला मंच सोशल मीडिया अब इतना खुला नहीं रहा, इस पर सेंसरशिप, डाटा चोरी, निगरानी और नकेल लगाने जैसे हथकंडे अपनाये जाने लगे हैं। 15 सितम्बर को अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से विकीलीक्स ने एक वीडियो ट्वीट कर बड़ा खुलासा किया है कि इज़राईल ने पूरी दुनिया में सोशल साइट्स पर इज़राइल विरोधी कंटेंट पर नज़र रखने के लिए तेलअवीव में कमांड सेंटर … पढ़ना जारी रखें इज़राईल विरोधी कंटेंट पर सेंसरशिप, अभिव्यक्ति की आज़ादी पर हमला

नज़रिया – इंसानी खून की कोई कीमत नहीं, क्या आप राक्षस बन चुके हैं ?

मुझे पता है यह जो मैं लिखने जा रहा हूँ, उससे आप कन्नी काटकर चुपचाप निकल जाएँगे । मेरे लफ़्ज़ आपके गिरेहबान तक तो जाएँगे चाहे मैं खुद को रोकना भले ही जितना चाहूँ । तेलंगाना में अभी कुछ रोज़ पहले एक लड़के को मार दिया गया क्योंकि उसने प्रेम किया था । उसकी पत्नी और माँ किसी के भी सामने मारा जाए या छिपा … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – इंसानी खून की कोई कीमत नहीं, क्या आप राक्षस बन चुके हैं ?

जेएनयू से संदेश – एक नया ध्रुवीकरण बन रहा है

मैं हमेशा मानता रहा हूँ कि जेएनयू का आइडियलिज़्म बाहर की दुनिया से मेल नहीं खाता है – इसीलिये वहां के चुनाव को कैंपस के बाहर की राजनीति का बैरोमीटर नहीं माना जा सकता है. लेकिन नरेंद्र मोदी के दिल्ली आने के बाद मैंने इस धारणा पर नए सिरे से सोचना शुरू किया. प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी और आरएसएस और बीजेपी की नई व्यवस्था … पढ़ना जारी रखें जेएनयू से संदेश – एक नया ध्रुवीकरण बन रहा है

नज़रिया – राहुल के मंदिर जाने से क्या समस्या है आपको ?

हम राहुल गांधी को शिक्षा देने के लिए बड़े बेक़रार रहते हैं. क्या करें उम्मीद तो थक हार के कांग्रेस से ही बचती है एक सेकुलर टाइप की सरकार दे पाने की तो उसी में कम्युनिस्ट पार्टी में ढूँढने लगते हैं. हम चाहते हैं राहुल मंदिर में न जाएँ. क्यों न जाएँ भाई? हमारे मुट्ठी भर वोट के लिए? और मान लीजिये वाकई उनकी आस्था … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – राहुल के मंदिर जाने से क्या समस्या है आपको ?

पुण्य प्रसून वाजपेयी की कलम से – मोदी जी जन्मदिन की बधाई….2019 आप जीत रहे हैं!

पहली तस्वीर….लुटियन्स दिल्ली वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरीये पिछले दिनो प्रधानमंत्री जब सचिवों से सवाल जवाब कर रहे थे, तब किसी सवाल पर एक सचिव अटक गये। और अटके सवाल पर कोई सीधा जवाब जब सचिव महोदय नही दे पाये तो प्रधानमंत्री ने कुछ उखड़कर कहा आप ऐसे ही जवाब 2019 में हमारे चुनाव जीतने के बाद भी देते रह जायेंगे क्या? इस वीडियो कांन्फ्रेसिंग में … पढ़ना जारी रखें पुण्य प्रसून वाजपेयी की कलम से – मोदी जी जन्मदिन की बधाई….2019 आप जीत रहे हैं!

नज़रिया – क्या कहती है मध्यप्रदेश की आदिवासी राजनीती?

जिस राज्य की 24 प्रतिशत आबादी आदिवासी समुदाय की हो, वहाँ पर उनका प्रतिनिधित्व नगण्य हो, सुनकर अजीब लगता है. पर मध्यप्रदेश की कहानी ऐसी ही है. पिछले कई सालों से यहाँ आदिवासी समुदाय की राजनीतिक उपस्थिति नगण्य रही है. गोंड,प्रधान,भील और अन्य आदिवासी समुदायों की भारी तादाद प्रदेश में निवास करती है. महाकौशल, मालवा,निमाड़ घनी आदिवासी आबादी वाले क्षेत्र हैं. पर कांग्रेस से कांतिलाल … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – क्या कहती है मध्यप्रदेश की आदिवासी राजनीती?

ऐसी सरकार चाहिए जो आदिवासियों के जल जंगल और जमीन पर उनका अधिकार दिलाये

कल 16 सितम्बर 2018 को मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के खवासा में जयस के नेतृत्व में आदिवासी एकता महासम्मेलन का सफलतापूर्वक आयोजन सम्पन्न हुआ . आदिवासी एकता महासम्मेलन झाबुआ, रतलाम, आलीराजपुर, धार, देवास, राजस्थान के बांसवाड़ा, गुना और भोपाल से हजारो आदिवासी युवा शामिल हुए. आदिवासी एकता महासम्मेलन में आदिवासियों के संवैधानिक अधिकारो को धरातल लागू करवाने के लिए आदिवासी सरकार बनाने का संकल्प लिया है . … पढ़ना जारी रखें ऐसी सरकार चाहिए जो आदिवासियों के जल जंगल और जमीन पर उनका अधिकार दिलाये

जयस और गोंडवाना का बढ़ता प्रभाव, क्या सेक्रिफाईज़ करेगी कांग्रेस?

जेएनयू में लेफ्ट यूनिटी की जीत आज मीडिया पर चर्चा का विषय बन रही है दरअसल जहाँ भी बैलेट पर चुनाव होंगे वहाँ आरएसएस से जुड़े संगठनों को चाहे वह भाजपा हो या चाहे एबीव्हीपी सभी को हार का सामना करना होगा लेकिन जेएनयू हमेशा से ही लेफ्ट का गढ़ रहा हैं इसलिए इस बात पर इतना अधिक उत्साहित होने की जरूरत नही है यदि … पढ़ना जारी रखें जयस और गोंडवाना का बढ़ता प्रभाव, क्या सेक्रिफाईज़ करेगी कांग्रेस?

फ़ेक न्यूज़ वाच – असली नहीं है मोदी की टोपी लगाई हुई तस्वीर

जबसे सोशलमीडिया का चलन बढ़ा है, सभी राजनीतिक पार्टियाँ अपने अपने पक्ष में फोटोशॉप का उपयोग करके जनता को गुमराह करने की कोशिश करती हैं. पूर्व में भारतीय जनता पार्टी की ऊपर गलत तस्वीरों का उपयोग करने और फोटोशॉप तस्वीरों के इस्तेमाल के आरोप लगते रहे हैं. पर फ़िलहाल खुद भाजपा फोटोशॉप तस्वीर का शिकार हो गई है. दरअसल हाल ही में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री … पढ़ना जारी रखें फ़ेक न्यूज़ वाच – असली नहीं है मोदी की टोपी लगाई हुई तस्वीर

नज़रिया – JNU छात्र संघ चुनाव हारकर भी कुछ यूं जीत गई ABVP

जेएनयू के छात्र संघ चुनाव में एबीवीपी ने जिस तरह से हिंसा फैलाई वो हम सभी के सामने है और यह भविष्य के लिए एक ख़तरनाक संकेत भी है। जो लोग यह सोच रहे हैं के एबीवीपी ने चुनाव जीतने के लिए ऐसा किया या एबीवीपी हार से बौखला गयी थी इसलिए ऐसा किया,तो वो लोग बहुत बड़े भ्रम में है, क्यों के एबीवीपी ऐसा … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – JNU छात्र संघ चुनाव हारकर भी कुछ यूं जीत गई ABVP

मर्दों के अंदर धर्मांन्धता, जातीयता, मर्दानगी का अहंकार भरा है

बलात्कार के मामले को इस सरकार बनाम उस सरकार का मुद्दा बना कर देख लिया गया। कठुआ बनाम उन्नाव का मुद्दा बनाकर देख लिया गया। हिन्दू बनाम मुसलमान बनाकर देख लिया गया। अपराधियों के मज़हब देखे गए। पीड़िता का जात धर्म देख लिया गया। राजनीति का कोई ऐसा गर्त न रहा होगा जहाँ बलात्कार का मामला न पहुँचा हो। समाज को निशाना बनाकर देख लिया … पढ़ना जारी रखें मर्दों के अंदर धर्मांन्धता, जातीयता, मर्दानगी का अहंकार भरा है

चंद्रशेखर आज़ाद की रिहाई बहुजन आंदोलन की जीत- रिहाई मंच

लखनऊ, 14 सितम्बर 2018। रिहाई मंच ने चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ पर से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा रासुका हटाए जाने को बहुजन आंदोलन और इंसाफ पसंद संघर्ष की जीत बताया है। रिहाई मंच अध्यक्ष मो० शुऐब ने कहा कि योगी सरकार से सुप्रीम कोर्ट ने चंद्रशेखर पर रासुका लगाए जाने के मामले में चार सप्ताह में जवाब मांगा था। सुप्रीम कोर्ट की फटकार से बचने के … पढ़ना जारी रखें चंद्रशेखर आज़ाद की रिहाई बहुजन आंदोलन की जीत- रिहाई मंच

नज़रिया – 1857 का राष्ट्रवाद, नरेंद्र मोदी और 2019

दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव ABVP ने धांधली से जीता। सच्ची तस्वीर सामने आई मतगणना के छठे राउंड में। ABVP के उम्मीदवार NSUI से पीछे चल रहे थे। अचानक ईवीएम ने काम करना बंद कर दिया। कौटिंग रोक दी गयी। कुछ घंटो बाद जब कौटिंग शुरू हुई तो ABVP ने 4 में से 3 सीटें जीत ली! 2017 और 2018 में लगभग सभी छात्रसंघ चुनावों ABVP … पढ़ना जारी रखें नज़रिया – 1857 का राष्ट्रवाद, नरेंद्र मोदी और 2019

ओवैसी और आंबेडकर के पोते “प्रकाश आंबेडकर” के बीच हुआ गठबंधन

2019 के लोकसभा चुनावों को लेकर AIMIM  प्रमुख असदुद्दीन औवेसी ने घोषणा की है कि ऑल इंडिया मजलिस-ए इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM ) और भारिप बहुजन महासंघ (BBM) 2019 में लोकसभा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए गठबंधन बनाएंगे. हैदराबाद सांसद औवेसी ने कहा – “दोनों पार्टियों के बीच आरंभिक बातचीत में सकारात्मक परिणाम आये हैं. प्रकाश आंबेडकर दो अक्टूबर को औरंगाबाद में जनसभा को संबोधित … पढ़ना जारी रखें ओवैसी और आंबेडकर के पोते “प्रकाश आंबेडकर” के बीच हुआ गठबंधन