शादी का झांसा देकर बंगाल भाजपा कार्यकर्ता का रेप करता था आरएसएस नेता

संघ की सहयोगी संस्था अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के एक वरिष्ठ नेता को सोमवार (17 सितंबर) को दिल्ली से बंगाल की भाजपा कार्यकर्ता से बार-बार बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

महिला ने अमलेंदु चट्टोपाध्याय के खिलाफ बीते 31 अगस्त को बलात्कार का मामला दर्ज कराया था. महिला ने आरोप लगाया कि अमलेंदु ने शादी का झांसा देकर उसका यौन उत्पीड़न किया. महिला ने पुलिस में दी अपनी शिकायत में कहा है कि आरोपी ने उसे यातना दी और धमकी दी कि अगर किसी से इस बारे में बात की तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

शिकायतकर्ता महिला ने आरएसएस के वरिष्ठ नेता बिद्युत चटर्जी, शिव प्रकाश और सुब्रत चटर्जी के नाम भी लिए हैं. न्यूज 18 की खबर के मुताबिक कोलकाता के जेसीपी प्रवीण त्रिपाठी ने आरोपी के गिरफ्तार होने की पुष्टि की और कहा, ”उन्हें दिल्ली से गिरफ्तार किया गया, एक महिला ने उनके खिलाफ शिकायत की थी और हम इसमें आगे की जांच कर रहे हैं.”

उन्होंने कहा, ”अमलेंदु के खिलाफ बलात्कार और धोखाधड़ी के आरोप हैं. शिकायतकर्ता ने बिद्युत चटर्जी और शिव प्रकाश के भी नाम लिए हैं. हम आरोपों के बारे में ज्यादा विवरण जुटाने की कोशिश कर रहे हैं और हमारी टीम मामले की पड़ताल कर रही है।”

टेलीग्राफ की खबर के मुताबिक आरोपी के खिलाफ महिला को शादी का झूठा झांसा देने, रेप करने, धोखा देने, आपराधिक विश्वासघात करने, गर्भपात के लिए मजबूर करने और आपराधिक साजिश रचने जैसे आरोपों में मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस में दी गई शिकायत के मुताबिक एफआईआर में जिन दो नेताओं के नाम शामिल नहीं हैं, उन्होंने सेंट्रल कोलकाता स्थित एक होटल में महिला को मिलने के लिए बुलाया था. होटल पहुंचने पर महिला को वहां शिव प्रकाश और मुखर्जी मिले.