क्या है ‘नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस’ NRC

असम के राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर का उद्देश्य बांग्लादेशी अवैध प्रवासियों को चिह्नित करना है. राज्य सरकार द्वारा यह कदम भारत के मूल नागरिकों की पहचान और असम में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों को बाहर करने के लिए उठाया गया है.

अवैध विदेशियों के खिलाफ असम आंदोलन (1979 – 85) के कारण केंद्र सरकार, राज्य सरकार और अखिल भारतीय छात्र संघ AASU और अखिल असम गण परिषद् AAGSP के बीच 15 अगस्त 1985 को असम समझौते पर हस्ताक्षर किये गए थे जिसमें अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों को चिह्नित करने और उन्हें वापस भेजने के लिए अंतिम तिथि 24 मार्च 1971 निर्धारित की गयी थी.

यह रजिस्टर वर्ष 1951 में पहली बार तैयार किया गया था, असम ‘राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर’ तैयार करने वाला पहला राज्य है. इस रजिस्टर के तहत ऐसे प्रवासी जिनके पास यह साबित करने के लिए दस्तावेज हैं कि वे वर्ष 1971 के पहले असम में प्रवेश किया था, उन्हें भारत का नागरिक माना जाएगा. अन्य प्रवासियों को यह साबित करना होगा कि उनके पूर्वज वर्ष 1971 के पूर्व असम में रहते थे.

  • उल्लेखनीय है कि असम में बांग्लादेशियों की बढ़ती जनसंख्या के मद्देनजर नागरिक सत्यापन की प्रक्रिया दिसंबर, 2013 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शुरू हुई थी.
  • मई, 2015 में असम राज्य के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे
  • इस दौरान संपूर्ण असम के 27 लाख परिवारों से 6.5 करोड़ दस्तावेज प्राप्त हुए थे. ध्यान रहे कि राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर तैयार करने की प्रक्रिया वर्ष 2018 तक पूरी की जानी है.

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर तैयार करने से आशय उन व्यक्तियों अथवा उनके वंशजों के नामों को दर्ज करने की प्रक्रिया से है, जिनके नाम वर्ष 1971 तक की निर्वाचक नामावली, राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर, 1951 या किसी स्वीकार्य निर्धारित दस्तावेज में शामिल है.

राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर, 1951 को अपडेट करने की मांग करते हुए ‘ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन’ (AASU) एवं ‘असम गण परिषद’ द्वारा 18 जनवरी, 1980 को केंद्र सरकार को एक ज्ञापन सौंपा था.

  • 17 नवंबर, 1999 को असम समझौते के कार्यान्वयन की समीक्षा की आधिकारिक त्रिपक्षीय बैठक में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को अद्यतन करने का निर्णय लिया गया.
  • केंद्र सरकार द्वारा इस कार्य द्वारा 20 लाख रुपये स्वीकृत किए गए और 5 लाख रुपये जारी किए गए.
  • 5 मई, 2005 को तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर को अद्यतन करने का अंतिम निर्णय लिया गया.
सोर्स लिंक्स

https://en.wikipedia.org/wiki/National_Register_of_Citizens_of_India

https://www.livemint.com/Politics/q9a4WgZptGXE64r8jghD0L/Explainer-What-is-National-Register-of-Citizens-NRC-of-As.html

https://gshindi.com/pib/national-register-citizen

https://hindi.thequint.com/explainers/know-about-national-register-of-citizenship

http://www.drishtiias.com/hindi/current-affairs/national-register-of-citizens

ये भी पढ़ें

यहाँ क्लिक करके हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राईब करें

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.