“कार्डिएक अरेस्ट” के बाद बाथटब पर गिरी थीं श्रीदेवी

प्रसिद्ध भारतीय अभिनेत्री श्रीदेवी का रविवार को दुबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है. मात्र 54 साल की उम्र में उनका निधन होने से पूरा फ़िल्म जगत स्तब्ध है.रिपोर्ट्स के मुताबिक उनकी मृत्यु कार्डिएक अटैक की वजह से हुई है. दुबई में श्रीदेवी मोहित मारवाह की शादी में सम्मिलित होने गयीं थी. मोहित बॉनी, अनिल और संजय कपूर के भांजे हैं. श्रीदेवी के साथ पति बॉनी कपूर और छोटी बेटी खुशी कपूर भी शादी में गये थे. पूरा परिवार वहां से वापस आ गया था,लेकिन श्रीदेवी वहां शॉपिंग करने के लिए रूक गई थीं.

दुबई के खलीज टाइम्स की खबरों के अनुसार

“शादी समारोह में शामिल होने के बाद परिवार के कई सदस्य वापस आ गए थे, जिसमें श्रीदेवी के पति बोनी कपूर भी मुंबई लौट चुके थे. शनिवार को बोनी कपूर श्रीदेवी के लिए एक बड़ा सरप्राइज लेकर फिर से दुबई पहुंचे. बोनी कपूर शनिवार शाम करीब 5.30 बजे दुबई के उसी जुमैरा अमीरात टॉवर्स होटल में पहुंचे, जहां श्रीदेवी पहले से मौजूद थीं. होटल के रूम में पहुंचने के बाद बोनी कपूर ने श्रीदेवी को जगाया.

उसके बाद दोनों लगभग करीब 15 मिनट तक बातचीत करते रहे. बोनी कपूर ने श्रीदेवी को डिनर पर चलने के लिए कहा. बोनी कपूर के साथ डिनर करने के लिए श्रीदेवी तैयार होने के लिए बाथरूम चली गईं.

कमरे के बाथरूम में जाने के बाद श्रीदेवी जब करीब 15 मिनट तक बाहर नहीं आईं तो बोनी कपूर ने दरवाजा खटखटाया. जब बॉथरूम के अंदर से कोई जवाब नहीं आया तो बोनी कपूर ने किसी तरह दरवाजा खोला. जैसे ही बोनी कपूर बाथरूम के अंदर पहुंचे, तो उन्होंने देखा कि श्रीदेवी पानी से भरे नहाने वाले टब में बेहोश पड़ी हुई हैं.फिर बोनी कपूर ने श्रीदेवी को होश में लाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हुए. इसके बाद उन्होंने अपने एक दोस्त को होटल में बुलाया. होटल में लगभग रात 9 बजे बोनी ने पुलिस को इसकी जानकारी दी. पुलिस जब पहुंची तो श्रीदेवी इस दुनिया को अलविदा कह चुकी थीं.

मौत से पहले श्रीदेवी की अंतिम तस्वीर

क्या होता है कार्डिएक अरेस्ट?

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक़ – Heart.org के अनुसार दरअसल, कार्डिएक अरेस्ट अचानक होता है और शरीर की तरफ़ से कोई चेतावनी भी नहीं मिलती.

इसकी वजह आम तौर पर दिल में होने वाली इलेक्ट्रिकल गड़बड़ी है, जो धड़कन का तालमेल बिगाड़ देती है.इससे दिल की पम्प करने की क्षमता पर असर होता है और वो दिमाग़, दिल या शरीर के दूसरे हिस्सों तक ख़ून पहुंचाने में कामयाब नहीं रहता.

इसमें चंद पलों के भीतर इंसान बेहोश हो जाता है और नब्ज़ भी जाती रहती है.अगर सही वक़्त पर सही इलाज न मिले तो कार्डिएक अरेस्ट के कुछ सेकेंड या मिनटों में मौत हो सकती है.

श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त 1963 को तमिलनाडु के शिवाकासी में हुआ था. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत महज चार साल की उम्र में एक तमिल फिल्म कंधन करुणई से की थी.बाल कलाकार के रूप में श्रीदेवी ने तेलुगू और मलयालम फिल्मों में भी अभिनय किया था.

धीरे-धीरे दक्षिण भारतीय फिल्मों में श्रीदेवी का कद बढ़ता जा रहा था लेकिन उनकी मंजिल बॉलीवुड थी. 1975 में उन्हें उस वक्त की बेहद बोल्ड मानी जाने वाली फिल्म जुली में एक छोटा सा रोल मिला.

साल 1979 में बतौर मुख्य कलाकार फ़िल्म ‘सोलहवां साल’ से अपने हिंदी फ़िल्म करियर की शुरुआत की.हालांकि इस फिल्म से उन्हें कोई बड़ा फायदा नहीं हुआ. वो फिर से साउथ इंडियन फिल्म करने लगीं.पहली हिन्दी फिल्म आने के चार साल बाद वो दोबारा बॉलीवुड में लौटी.इस बार उनके साथ कमल हासन थे और फिल्म का नाम था ‘सदमा’. फिल्म हिट रही और श्रीदेवी को फिलमफेयर का अवॉर्ड भी मिला.इसके बाद तो उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नही देखा.

Image result for sridevi marriage photos

80 के दशक को श्रीदेवी का दशक कहा जाता है. इस दशक में उन्होंने हिम्मतवाला, तोहफ़ा, मिस्टर इंडिया, नगीना जैसी सुपरहिट फ़िल्में दीं.लोग उन्हें लेडी ‘अमिताभ बच्चन’कहने लगे थे.

जीतेंद्र और श्रीदेवी की जोड़ी काफी पसंद की जाती थी.जीतेंद्र और श्रीदेवी ने मिलकर एक के बाद सुपरहिट जैसे हिम्मतवाला, तोहफ़ा, जस्टिस चौधरी और मवाली जैसी फ़िल्में दीं.

1996 में श्रीदेवी ने अनिल कपूर के बड़े भाई और डायरेक्ट बोनी कपूर के साथ शादी कर ली और  इसके बाद से श्रीदेवी ने फ़िल्मी दुनिया से अपनी दूरी बना ली थी.साल 1997 में फ़िल्म ‘जुदाई’ के बाद से श्रीदेवी 15 सालों के लिए फ़िल्मों से ग़ायब हो गईं और फिर नज़र आईं साल 2012 में फ़िल्म इंग्लिश-विंगलिश में. यह फिल्म भी सुपरहिट साबित हुई.

  • साल 2017 में श्रीदेवी की फिल्म ‘मॉम’ रिलीज़ हुई थी.श्रीदेवी ने फ़िल्मों में लंबी पारी खेली और अपने पांच दशक के लंबे कैरियर में ‘मॉम’ उनकी 300वीं फ़िल्म थी.
  • पद्मश्री पुरुस्कार प्राप्त श्रीदेवी को बॉलीवुड की पहली महिला सुपरस्टार कहा जाता था.देवर अनिल कपूर के साथ भी उनकी जोड़ी काफी पसंद की जाती थी.दोनों ने कई फिल्मों में साथ काम किया.
  • बोनी कपूर की पहली पत्नी मोना की तरह ही श्रीदेवी भी एक मामले में दुर्भाग्य रहीं. दरअसल, जल्द ही श्रीदेवी की बड़ी बेटी जाह्नवी की डेब्यू फिल्म ‘धड़क’ रिलीज होने वाली थी, लेकिन श्रीदेवी अपनी बेटी की ये फिल्म नहीं देख पाईं.

खबरों की मानें तो बोनी कपूर की पहली पत्नी मोना शौरी कपूर की मौत भी उनके बेटे अर्जुन कपूर की डेब्यू फिल्म ‘इश्कजादे’ रिलीज होने से पहले हो गई थी.

 

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.